Mumbai News : शिवसेना से हाथ मिलाने को लेकर भाजपा में दो फाड़

  • प्रदेश अध्यक्ष पाटील और पूर्व सीएम फडणवीस आमने-सामने
  • राष्ट्रीय और प्रदेश की राय में भी मतभेद
  • विरोधाभाषी बयानो से कार्यकर्ता असमंजस में

By: Binod Pandey

Published: 29 Jul 2020, 10:24 AM IST

मुंबई। शिवसेना और भाजपा के पुन: एक साथ आने के प्रस्ताव को लेकर भाजपा नेताओं में दो फाड़ हो गए है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रकान्त पाटील और पूर्व मुख्यमंत्री और विधानसभा में विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस के बीच मतभेद चौडे मे आ गए है।। पाटील ने मंगलवार को एक बयान में सरकार बनाने के लिए शिवसेना को भाजपा के साथ आने का प्रस्ताव दिया तो फडणवीस ने तुरंत इसे नकार दिया। कहा कि ऐसा कोई प्रस्ताव हमने नहीं दिया है। शिवसेना को लेकर दोनों नेताओं के विरोधाभासी बयान से भाजपा कार्यकर्ता असमंजस में है।

देवेंद्र के खिलाफ पार्टी में एक धड़ा

जानकारों की माने तो भाजपा प्रदेश के शीर्ष नेता के बयान से साफ हो रहा है शिवसेना को पुन: साथ लाने के लिए भाजपा के एक धड़ा तैयार है। जो यह मानता है कि शिवसेना से नाता तोड़कर देवेंद्र फड़णवीस ने गलती की । राज्य में बहुमत में होने के बाद भी युति की सरकार नही बन पाई। इसके लिए देवेंद्र को दोषी भी मानते हैं दूसरा धड़ा जो देवेंद्र का समर्थक है वह अब भी शिवसेना को अपना दुश्मन मान रहा है।


ये कहा पाटील ने

पाटील ने शिवसेना को फिर भाजपा के साथ आने का प्रस्ताव दिया है । मीडिया को दिए बयान में चन्द्रकान्त पाटील ने कहा कि भाजपा आज भी शिवसेना के साथ सरकार बनाने को तैयार है। उन्होंने शिवसेना को गैर विचारधारा वाले दलों(कांग्रेस एनसीपी) के साथ जाने पर कटाक्ष भी किया।अलग विचार धारा वाले दलों के साथ उनकी सरकार नही टिकेगी। शिवसेना आज भी चाहे तो भाजपा के साथ सरकार बना सकती है।


ये कहा देवेंद्र ने

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमने पार्टी के साथ शिवसेना के आने का कोई प्रस्ताव नहीं दिया है और ना ही हमें शिवसेना से कोई प्रस्ताव मिला है।, फडणवीस ने पाटिल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हमारी शिवसेना से इस संदर्भ में कोई बात चीत नही हुई। भविष्य में भाजपा अपने दम पर चुनाव मैदान में होगी।


शिवसेना अब नहीं जाएगी-चव्हाण

उधर राज्य के सार्वजनिक बांधकाम मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा कि शिवसेना अब भाजपा के साथ नही जाएगी। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मनोस्थिति अब पहले जैसी नही हैं। वे भाजपा के साथ जाने के पक्ष में बिल्कुल नहीं हैं।

भाजपा अकेले दम पर आएगी -नड्डा

उल्लेखनीय है एक दिन पहले पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रदेश भाजपा कार्यसमिति की ऑनलाइन सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि राज्य में भाजपा को अब अगले सभी चुनाव अकेले दम पर लडऩे होंगे। खुद के बलबुते पर भाजपा को चुनाव जीतना होगा।

Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned