बेखौफ आदमखोर तेंदुओं को गोली मारने का दें आदेश

घर से खींचकर 4 से 5 बच्चों- बूढ़े किसानों की ले चुके हैं जान
विधायक ने वन मंत्री को निवेदन भेजा

By: Subhash Giri

Published: 17 Jun 2020, 04:52 PM IST

सुजीता दास
नासिक. पिछले 2 माह से नासिक जिले में आदमखोर नरभक्षी कई तेंदुओं का हमला इंसानों पर बढ़ गया है। रात-बेरात तब तो दिन में भी गन्ना, अंगूर, माला, बांध, गोदावरी क्षेत्रों के अलावा शहरीय इलाको में खुलेआम संचार कर आतंक मचा रहे हैं। अप्रैल से लेकर जून में अब तक 4 से 5 करीब बच्चों से लेकर बूढ़े किसानों तक को मौत के घाट जबकि 12 से अधिक को गम्भीर रूप से जख्मी कर चुका है। लोगों को मारने वाले आदमखोर तेंदुए को तुरंत पिंजरे में कैद करने या देखते ही मार डालने का आदेश देने की मांग देवलाली निर्वाचन क्षेत्र विधायक सरोज आहिरे ने वन मंत्री संजय राठौर से की है।
बच्चे को काट खाया तेंदुआ
19 अप्रैल को एकलहरे के पास हिंगणवेढे-गंगापडली गांव में भाइयों के साथ रनिंग करने गए 12 वर्षीय कुणाल योगेश पगारे पर तेंदुए ने हमला कर दिया, गन्ने के खेत में ले जाकर बुरी तरह से काट खाया, जिससे उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद इसी क्षेत्र के दोनवाडे गांव में 3 वर्षीय रुद्र राजू शिरोले को मौत के घाट उतार दिया गया था। 7 मई को सिटी के पेठरोड स्थित नामको हॉस्पिटल में मध्य रात में तेंदुआ घुस आया था। हॉस्पिटल का दरवाजा बन्द होने से बड़ा अनर्थ टल गया था। 29 मई को शहर के कॉलेज रोड के बीवायके कॉलेज परिसर में सुबह 10 बजे के करीब एक तेंदुआ घुस गया और एक महिला पर हमला कर दिया था।
76 वर्षीय ठुबे को मौत के घाट उतारा
30 मई को मध्यरात में चांडक सर्कल स्थित हॉटेल एसएसके में तेंदुआ घूस गया, यहां से निकलकर तेंदुए ने तडक़े 3.30 बजे उसी रास्ते से सुयश अस्पताल में प्रवेश किया। जबकि, इसी दिन इंदिरा नगर में भोर 5.30 बजे मोर्निंग वॉक को जा रहे 2 पुरुषों पर हमला कर दिया था। 1 जून को पाथर्डी गावं के पास संजय कोम्बडे के गन्ना खेत में 1 महीने का स्वस्थ तेंदुए का नवजात बच्चा मिला था। 10 जून को शेवगेदारणा तथा पलसे गांव निवासी अंकुश कासर की बेटी समृद्धि पर रात 9.30 बजे के बीच अपनी दादी भद्राबाई कासार के साथ घर के बाहर खेल रही थी। इस वक्त समृद्धि पर तेंदुए ने अचानक से हमला कर दिया था। घायल समृद्धि को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 15 जून की सुबह में खेत के बीच घर मे सो रहे 76 वर्षीय जीवराम ठुबे को मौत के घाट उतार दिया था। विधायक आहिरे ने मंगलवार को वन मंत्री राठौर को ज्ञापन सौपकर आदमखोर तेंदुए को तुरंत पिंजरे में कैद करने या देखते ही मार डालने का आदेश देने की मांग की है।
नासिक पश्चिम फॉरेस्ट विभाग
हमलों को बढ़ाता देख विभाग की ओर से उचित उपाय और सावधानियां बरतने का काम शुरू हो चुका है। जिस इलाको से खबर आ रही हैं वहां पर पिंजरा लगाकर तेंदुए को पकडऩे की कोशिश की जा रही हैं। अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील है।

Subhash Giri
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned