pmc Bank : पीएमसी बैंक में जमा पैसा सुरक्षित, 30 अक्टूबर को हो सकता है अहम फैसला

परेशान जमाकर्ताओं को आरबीआई कार्यकारी निदेशक ने दिया भरोसा
पैसा निकासी पर लगी रोक से नाराज हजारों ग्राहकों ने नहीं दिया वोट

 

मुंबई. पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक के परेशान जमाकर्ताओं को भारतीय रिजर्व बैंक ने भरोसा दिया है कि बैंक में जमा उनका पैसा सुरक्षित है। साथ ही केंद्रीय बैंक ने यह इशारा भी किया है कि 30 अक्टूबर को पीएमसी बैंक के भविष्य के बारे में अहम फैसला हो सकता है। बैंक के परेशान खाताधारकों के प्रतिनिधिमंडल को यह भरोसा केंद्रीय बैंक के कार्यकारी निदेशक ने दिया है। चूंकि रिजर्व बैंक गवर्नर शशिकांत दास बाहर हैं, लिहाजा खाताधारकों की मुलाकात उनसे नहीं हो पाई।


उल्लेखनीय है कि वित्तीय गड़बड़झाले को भांपते हुए रिजर्व बैंक ने सितंबर में पीएमसी बैंक में पैसा जमा करने और निकालने पर रोक लगा दिया। पहले छह माह में एक हजार रुपए निकालने की छूट दी गई थी। हालांकि बाद में पैसा निकासी की सीमा 40 हजार रुपए तक बढ़ा दी गई। केंद्रीय बैंक की ओर से पीएमसी के खातों की जांच कराई जा रही है। बैंक की अंदरूनी जांच में तकरीबन छह हजार करोड़ रुपए की गड़बड़ी का अंदेशा जताया गया है। इस मामले में बैंक के पूर्व अध्यक्ष वरयाम सिंह, एक डायरेक्टर और एमडी सहित डिफॉल्टर घोषित हो चुकी रियल इस्टेट कंपनी एचडीआईएल के प्रमोटर राकेश व सारंग वधावन जेल में हैं।

आजाद मैदान में प्रदर्शन
पूरा पैसा निकालने की छूट से जुड़ी मांग के साथ पीएमसी बैंक के खाताधारक मंगलवार आजाद मैदान में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। इसके बाद पीएमसी खाताधारकों के प्रतिनिधिमंडल ने आरबीआई के कार्यकारी निदेशक से मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल में छह लोग शामिल थे। रिजर्व बैंक से भरोसा मिलने के बाद जमाकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन वापस ले लिया।

छह लोगों की मौत
पीएमसी बैंक खाताधारक और कांग्रेस नेता चरण सिंह सप्रा ने कहा कि हम लोग दिवाली नहीं मनाएंगे। उन्होंने कहा कि अब तक छह खाताधारकों की मौत हो चुकी है। रिजर्व बैंक से मांग की गई है कि प्रत्येक मृतक के परिजनों को 25 लाख रुपए की सहायता दी जाए। रिजर्व बैंक अधिकारियों से मिलने गए जमाकर्ताओं के प्रतिनिधिमंडल में सप्रा भी शामिल थे। उन्होंने कहा कि यदि हमारी मांगे पूरी नहीं हुईं तो हम फिर से आंदोलन करेंगे।

क्या है मामला
रिजर्व बैंक ने 24 सितंबर को पीएमसी बैंक के लेनदेन पर रोक लगा दी थी। सीमित पैसा निकासी सुविधा को पीएमसी बैंक ग्राहक पर्याप्त नहीं मानते। उनकी मांग है कि बैंक में जमा पूरा पैसा निकालने की छूट ग्राहकों को मिले। बैंक के ग्राहकों को यह डर सता रहा कि कहीं उनकी गाढ़े की कमाई डूब न जाए।

Binod Pandey
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned