politics : ....तो चरमरा जाएगी राज्य की उद्योग व्यवस्था... पवार ने जताई गहरी चिंता, कहा मजदूरों के पलायन को रोकें

NCP Chief Sharad Pawar ने कहा कि राज्य में मजदूरों(labours) के पलायन( migrant) के बाद उद्योग व्यवसाय( industries and business) के लिए गहरा संकट (big problem) खड़ा हो गया है । उद्योग धंधे को बहाल करने एवं धीरे-धीरे स्थिति सामान्य(usualy) करने और राज्य की अर्थव्यस्था(economy) को फिर से पटरी पर लाने के लिए मजदूरों के पलायन को किसी तरह रोकना होगा।

By: Ramdinesh Yadav

Published: 20 May 2020, 11:13 PM IST

मुंबई. एनसीपी सुप्रीमो प्रमुख शरद पवार ने कोरोना महामारी के इस दौर में महाराष्ट्र में उद्योग व्यवसाय को लेकर गहरी चिंता जताई है । इस मामले में उन्होंने मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ लंबी बातचीत कर उपाय योजना करने की सलाह दी ।

पवार ने ट्वीट कर यह जानकारी दी । उन्होंने कहा कि राज्य में मजदूरों के पलायन के बाद उद्योग व्यवसाय के लिए गहरा संकट खड़ा हो गया है । उद्योग धंधे को बहाल करने एवं धीरे-धीरे स्थिति सामान्य करने और राज्य की अर्थव्यस्था को फिर से पटरी पर लाने के लिए मजदूरों के पलायन को किसी तरह रोकना होगा। अथवा विकल्प के तौर पर महाराष्ट्र के युवकों से आगे आने की अपील करनी होगी ।

उन्होंने कहा कि कोरोना के लॉकडाउन से शैक्षणिक संस्थानों , कपड़ा उद्योग, कृषि उद्योग, स्टील उद्योग, तथा अन्य उदयिग से राज्य को राजस्व का घाटा हुआ है यदि स्थिति ऐसे ही रही तो आगामी दिनों में भयावह स्थिति की नौबत आ सकती है। उन्होंने स्थिति को भांपने के लिए एक अध्ययन दल बनाने का सुझाव दिया ।

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस अब कभी पूरी तरह से खत्म नही होगा । इसे जीवन का हिस्सा मानकर आगे के रणनीति पर काम करना होगा ।

Show More
Ramdinesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned