Maha Corona Virus: निजी कोचिंग क्लासेज वाले वसूल रहे मुंह मांगी फीस

कोरोना वायरस ( Corona Virus ) के चलते घोषित हो चुके हैं अवकाश, पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए चलाए जा रहे डिजिटल क्लासरूम ( Digital Classroom ), अभिभावकों और छात्रों में चिंता, निजी कोचिंग क्लासेज ( Private Coaching Classes ) वाले वसूल रहे मुंह मांगी फीस

By: Rohit Tiwari

Updated: 19 Mar 2020, 11:56 AM IST

रोहित के. तिवारी
मुंबई. सरकार ने कोरोना वायरस के चलते स्कूलों और कॉलेजों में अवकाश घोषित किया है। वहीं सीईटी, जेईई, नीट के लिए प्रवेश परीक्षाओं और प्रतियोगी परीक्षाओं की पृष्ठभूमि पर निजी कोचिंग क्लासेज चलाए जा रहे हैं और इनमें धड़ल्ले से मुंह मांगी फीस वसूली जा रही है। इसके चलते छात्रों और अभिभावकों में चिंता का विषय बन गया है। पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए कुछ कक्षाओं की ओर से डिजिटल क्लासरूम फंडे का भी उपयोग किया जा रहा है, जो एक रिकॉर्डेड प्रारूप में या एक लाइव कक्षा के माध्यम से आयोजित होगा।

अब निजी कॉलेजों में होगी नि:शुल्क कोचिंग शुरू

 

20 से 60 हजार रुपये तक शुल्क...
वर्तमान में परीक्षाओं के मौसम में कई स्कूलों और कोचिंग क्लासेज के पाठ्यक्रम को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है। कोरोना वायरस के कारण स्कूलों और कॉलेजों ने छात्रों के लिए छुट्टी घोषित की कर दी गई है। हालांकि वर्तमान में 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं चल रही हैं, जबकि दूसरी ओर मेडिकल और इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के लिए भी प्रवेश प्रक्रिया जल्द ही पूरी हो जाएगी, जिसका छात्रों को इंतजार है। कई छात्र ग्रीष्मकालीन अवकाश में कोचिंग क्लासेज की योजना बना रहे हैं। कोचिंग वाले प्रवेश परीक्षा के लिए बहुत अधिक शुल्क लेते हैं। इनमें 20 हजार से 60 हजार रुपये तक शुल्क लिया जाता है।

चंडीगढ़ में अब स्कूली समय में नहीं चल सकेंगी निजी कोचिंग क्लासेज, जानिए क्यों ?

अभिभावकों को किया गया सूचित...
सरकार ने किसी भी परीक्षा को स्थगित करने का फैसला नहीं किया है। इसलिए प्रवेश परीक्षा के अभ्यासक्रम को पूरा करने को लेकर कोचिंग क्लासेस में सभी वर्ग की पढ़ाई हो रही है, जबकि कई सारे कोचिंग क्लासेस भरे हुए हैं। वहीं राज्य में कोरोना वायरस के प्रसार के बारे में अभिभावकों की चिंता बढ़ रही है, क्योंकि इसे कई वर्गों द्वारा अनदेखा किया जा रहा है। यदि कोरोना वायरस के कारण कक्षा को छुट्टी दे दी जाती है तो आगे का पाठ्यक्रम पूरा करना संभव नहीं होगा। परिणामस्वरूप कुछ अभिभावकों को कोचिंग क्लासेज द्वारा सूचित किया गया कि वे छात्रों को छुट्टी नहीं लेने देंगे। वहीं भारी फीस के साथ पाठ्यक्रम पूरा करने तक ध्यान केंद्रित किया जा रहा है।

कोरोना वायरस के चलते दिल्ली के बाद यूपी के इस जिले में भी कई स्कूलों ने घोषित की छुट्टियां

बड़ी कक्षाओं से आराम...
जहां एक ओर निजी कोचिंग क्लासेस द्वारा कक्षाएं जारी रखी जा रही हैं, वहीं कुछ बड़े निजी कोचिंग क्लासेस ने पाठ्यक्रम को पूरा करने के लिए डिजिटल कक्षाओं को प्राथमिकता दी है। छात्रों को उन कक्षाओं से लॉगिन आईडी दी गई है, जिसमें छात्रों को वीडियो के माध्यम से पाठ्यक्रम पढ़ाया जा रहा है। जबकि कुछ कक्षाएं अपने अद्यतन स्टूडियो से छात्रों के साथ बातचीत कर रही हैं, बड़े निजी कोचिंग कक्षाओं में छात्रों और अभिभावकों को आराम प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है।

कोरोना को लेकर बड़ी खबर, यूपी के सारे स्कूल-कॉलेज 22 मार्च तक किये गए बंद, सीएम योगी ने जारी किया आदेश

Corona virus
Show More
Rohit Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned