scriptShah Rukh Mannat bungalow Illegal says former MLA Harshvardhan Jadhav | शाहरुख खान ‘मन्नत’ में अवैध रूप से रह रहे हैं? महाराष्ट्र के पूर्व MLA हर्षवर्धन जाधव ने लगाया सनसनीखेज आरोप, कल देंगे सबूत | Patrika News

शाहरुख खान ‘मन्नत’ में अवैध रूप से रह रहे हैं? महाराष्ट्र के पूर्व MLA हर्षवर्धन जाधव ने लगाया सनसनीखेज आरोप, कल देंगे सबूत

औरंगाबाद के कन्नड निर्वाचन क्षेत्र के पूर्व विधायक हर्षवर्धन जाधव ने दावा किया कि शाहरुख खान का बंगला मन्नत सरकारी जमीन पर स्थित है और अनधिकृत है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि इस बात के पक्के सबूत उनके पास है। उनका कॉन्ट्रैक्ट 1981 में समाप्त हो गया था।

मुंबई

Published: June 20, 2022 06:29:33 pm

मुंबई: महाराष्ट्र के पूर्व विधायक हर्षवर्धन जाधव (Harshvardhan Jadhav) ने आज सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने बॉलीवुड (Bollywood) मेगास्टार शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) के मुंबई स्थित मन्नत बंगले (Mannat Bungalow) को अनाधिकृत होने का दावा किया है। उन्होंने कहा “उनका कॉन्ट्रैक्ट 1981 में समाप्त हो गया। लेकिन आज तक किसी भी मुख्यमंत्री ने इस समझौते को बहाल नहीं किया।“ हर्षवर्धन जाधव ने आरोप लगाते हुए साथ ही कहा कि इस बात के पक्के सबूत उनके पास है।
Shah Rukh Mannat bungalow
Shah Rukh
औरंगाबाद के कन्नड निर्वाचन क्षेत्र के पूर्व विधायक हर्षवर्धन जाधव ने कहा कि शाहरुख खान का बंगला मन्नत सरकारी जमीन पर बना है और मंगलवार को इसके सबूत सार्वजनिक करेंगे। उन्होंने दावा किया कि शाहरुख ने अवैध रूप से सरकारी जमीन ली है। राज्य सरकार भी शाहरुख खान का समर्थन कर रही है चाहे वह कोई भी हो। जाधव ने यह भी आरोप लगाया है कि शाहरुख पर टैक्स नहीं लगता है।
यह भी पढ़ें

'आप कुछ नहीं कर सकते!', कम उम्र में बेटी Nysa Devgn के फेम से क्यों परेशान हैं पिता Ajay Devgn?

उन्होंने कहा “सरकारी जमीन पर शाहरुख का बंगला मन्नत बना हुआ है, यह जमीन अवैध रूप से ली गई है। हर सरकार शाहरुख का समर्थन कर रही है। उस पर टैक्स नहीं लगाया जाता है। शाहरुख खान मन्नत में अनधिकृत और अवैध रूप से रह रहे हैं। इसका सबूत कैग (CAG) की रिपोर्ट है, जो मेरे पास हैं। मैं इसे कल (21 जून) पेश करूंगा।“ जाधव ने आरोप लगाया कि राज्य में आई सभी सरकारों ने इस बारे में कुछ नहीं किया।
हर्षवर्धन जाधव ने कहा, "मैं कल दोपहर मीडिया से बात करूंगा। महाराष्ट्र राज्य में जब भाजपा, शिवसेना और कांग्रेस सत्ता में थी, जब एनसीपी के लगातार उपमुख्यमंत्री थे, तब सैकड़ों एकड़ सरकारी भूमि बहुत कम दरों पर लीज पर दी गई थी। नतीजतन, महाराष्ट्र का सरकारी खजाना खाली है और टैक्स बढ़ गए हैं।"

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.