scriptShiv Sena's Foundation Day: Sanjay Raut Attacks opposition | Shiv Sena's Foundation Day: संजय राउत का विपक्ष पर तंज, बोले-जब बाला साहेब ने पार्टी बनाई थी तब लोग बोल रहे थे 3 महीने भी नहीं चलेगी | Patrika News

Shiv Sena's Foundation Day: संजय राउत का विपक्ष पर तंज, बोले-जब बाला साहेब ने पार्टी बनाई थी तब लोग बोल रहे थे 3 महीने भी नहीं चलेगी

शिवसेना पार्टी को आज 56 वर्ष हो गए हैं। इस खास मौके पर शिवसेना नेता संजय राउत ने विपक्ष पर तंज कसा है। राउत ने कहा कि जब बाला साहेब ठाकरे ने पार्टी बनाई तब लोग बोल रहे थे तीन महीने भी नहीं चलेगी।

मुंबई

Published: June 19, 2022 01:11:24 pm

मुंबई: महाराष्ट्र में विधान परिषद चुनाव के बीच शिवसेना के लिए आज बेहद खास दिन है। दरअसल शिवसेना का आज 56वीं स्थापना दिवस है। इस मौके पर संजय राउत ने विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा कि जब बाला साहेब ठाकरे ने शिवसेना पार्टी बनाई थी तब लोग बोल रहे थे कि तीन महीने भी नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि लोग हंस रहे थे कि क्षेत्रीय पार्टी है लेकिन आज क्षेत्रीय दल की राजनीति चल रही है। वे बोले कि आज इनकी मदद के बिना राजनीति नहीं चल सकती है।
Sanjay-Raut
Sanjay Raut
शिवसेना के 56वें स्थापना दिवस पर मुंबई में संजय राउत ने कहा कि जब बाला साहेब ठाकरे जी ने पार्टी बनाई थी तब लोग बोल रहे थे कि ये पार्टी 3 महीने भी नहीं चलेगी लेकिन आज 56 साल हो गए। मुंबई में भूमिपुत्र के न्याय के लिए बाला साहेब ठाकरे जी ने एक ऐसी चिंगारी डाली जो पूरे देश में फैली। उन्होंने कहा कि लोग हंस रहे थे कि ये क्षेत्रीय पार्टी है लेकिन आज पूरे देश में क्षेत्रीय पार्टी की ही राजनीति चल रही है।
यह भी पढ़ें

Presidential Election: शिवसेना ने बताया कैसा होना चाहिए राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार, संजय राउत बोले-शरद पवार हैं राजनीति के भीष्म पितामह

शिवसेना के राज्यसभा सांसद ने कहा कि कोई भी राष्ट्रीय पार्टी किसी क्षेत्रीय पार्टी की मदद के बिना अपनी राजनीति नहीं कर सकती है। अभी 56 साल हो गए और आगे भी जाएंगे। दरअसल आज ही के दिन 19 जून 1966 को बाला साहेब ठाकरे ने अपनी राजनीतिक पार्टी शिवसेना को बनाया था। बाला साहेब ने मराठी लोगों के अधिकारों की लड़ाई के लिए इस पार्टी को बनाया था। बाला साहेब खुद कभी चुनाव नहीं लड़े बल्कि रिमोट कंट्रोल से सत्ता चलाई।
बाला साहेब के बेटे उद्धव ठाकरे मौजूदा समय में महाराष्ट्र के सीएम हैं। शिवसेना का गठन करने से पहले बाला साहेब एक अंग्रेजी अखबार में कार्टूनिस्ट थे। बाला साहेब ने मार्मिक नाम से अखबार भी शुरू किया था। शिवसेना को जब बाला साहेब ने बनाया था तो नारा दिया था कि अंशी टक्के समाजकरण, वीस टक्के राजकारण। इसका अर्थ है 80 फीसदी समाज और 20 फीसदी राजनीति। लेकिन धीरे-धीरे शिवसेना की लोकप्रियता बढ़ी और आगे चलकर पार्टी ने मराठी मानुष के मसले से हटकर हिंदुत्व पर राजनीति शुरू कर दी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के अगले सीएम, देवेंद्र फडणवीस ने किया ऐलानMaharashtra: एकनाथ शिंदे होंगे महाराष्ट्र के नए सीएम, आज शाम होगा शपथ ग्रहण समारोहAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शिंदे सरकार में शामिल होंगे देवेंद्र फडणवीस, जेपी नड्डा ने ट्वीट कर दी जानकारीMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.