पेट्रोल की बढ़ती किमतों पर बोली शिवसेना- जनता को अच्छे दिनों के नाम पर सिर्फ ठगा गया

शिवसेना ने पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार को आड़े हाथ लिया

By: Prateek

Published: 03 Apr 2018, 07:10 PM IST

( मुंबई ) : पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ते ही राजनीतिक सरगर्मियां बढ़ गई है । दाम के बढ़ते ही केंद्र सरकार को राजनीतिक पार्टियों की आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है । विपक्षि पार्टियों के साथ-साथ बीजेपी की सहयोगी पार्टियां भी केंद्र सरकार की आलोचना में अपना योगदान दे रही है । इसी क्रम में बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना ने पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार को आड़े हाथ लिया है। शिवसेना ने कहा कि एक तो पहले से ही गर्मी का पारा चढ़ रहा है और ऊपर से उसमें पेट्रोल और डीजल की दर वृद्धि का विस्फोट हो गया है ।

पेट्रोल-डीजल का भाव बढ़ना कोई नई बात नहीं - शिव सेना

शिवसेना ने कहा कि अब ये कोई नई बात नहीं है, पिछले एक साल से ये बढ़ती ही जा रही है, लेकिन अब पेट्रोल और डीजल की मूल्य वृद्धि ने अपने चरम को छू लिया है । इसी वजह से आम आदमी की पहले से ही मुश्किल भरी जिंदगी और भी मुश्किल होने लगी है । मुंबई में पेट्रोल 81.59 रुपए तो डीजल 67.70 प्रति लीटर हो गया है । जुलाई 2017 से अप्रैल 2018 तक के बीते 8 महीने में पेट्रोल का मूल्य 75.08 रुपए से 81.69 रुपए तक हो गया गया, जबकि डीजल का 59.98 रुपए से 68.81 रुपए तक उछल चुका है ।

जनता को अच्छे दिन के नाम पर सिर्फ ठगा गया है - शिव सेना

सरकार को तीखे स्वर में शिव सेना ने कहा कि इसके पहले 2014 में जब कांग्रेस के शासन में पेट्रोल 80 रुपए के पार गया था, उस समय अब की मौजूदा केंद्र सरकार ने विपक्ष में रहते हुए खूब शोर गुल मचाया था, लेकिन आज ये लोग खुद भी ईंधन के दाम कम नहीं कर पा रहे है । जनता को अच्छे दिन के नाम पर सिर्फ ठगा गया है ।

यह भी पढ़े संसद: एससीएसटी एक्ट मामले पर विपक्ष को नहीं मिला घेरने का मौका

BJP
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned