एक बार फिर हो सर्जिकल स्ट्राइक... हंदवाड़ा आतंकी हमले की घटना के बाद शिवसेना ने की मांग

हमारा पड़ोसी( Neighbourhood country) देश अपनी गंदी हरकतों के बलबूते जम्मू एवं कश्मीर (Jammu and kashmir) में आतंकी (terrorist attack)) घटनाओं को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा है। उसे मुहतोड़ जवाब( surgical strik ) देना जरूरी हो गया है । हमारी सरकार कोरोना(Crona) के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ रही है लेकिन इसका मतलब नहीं है कि कश्मीर में होने वाली घटनाओं को नजरअंदाज(ignore) किया जाए।

By: Ramdinesh Yadav

Published: 05 May 2020, 11:36 PM IST

मुंबई। कश्मीर के हंदवाड़ा में हुए आतंकी हमले की घटना को लेकर शिवसेना ने गहरा शोक प्रकट करते हुए केंद्र सरकार से एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक करने की मांग की है। पार्टी मुखपत्र दैनिक सामना में कहा है कि देश मे मजबूत सरकार होने के बावजूद जम्मू कश्मीर में दुश्मनों के हमले थम नही रहे हैं। अब वक्त आ गया है कि दूसरी बार भी सर्जिकल स्ट्राइक कर दुश्मन को करारा जवाब दें।

सामना में छपे लेख में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि हमारा पड़ोसी देश अपनी गंदी हरकतों के बलबूते जम्मू एवं कश्मीर में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा है। उसे मुहतोड़ जवाब देना जरूरी हो गया है ।

हमारी सरकार कोरोना के खिलाफ एकजुट होकर लड़ाई लड़ रही है लेकिन इसका मतलब नहीं है कि कश्मीर में होने वाली घटनाओं को नजरअंदाज किया जाए। हंदवाड़ा में हुए आतंकी हमले को लेकर शिवसेना केंद्र सरकार के साथ है। अब दूसरे सर्जिकल स्ट्राइक के लिए सरकार को सोचना चाहिए। केंद्र के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह है । इनके रहते कश्मीर में आतंकी संगठन रह रहकर उठ रहे हैं । इनके खात्मे के लिए सख्त कदम उठाने की आवश्यकता है ।
हमारे देश के 5 जवान शहीद हो गए। पूरे देश को इस घटना ने झकझोर कर रख दिया है । यह बेहद चिंताजनक घटना है। ऐसे में दुश्मनों को करारा जवाब देना बहुत जरूरी हो गया है।

इस मामले में शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने एक ट्वीट भी किया है। शिवसेना ने कहा कि मौजूदा समय में देश कोरोना के खिलाफ जंग में व्यस्त है उसी का फायदा आतंकी और पड़ोसी मुल्क उठा रहा है।

बतादें कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, नाइक कमांडर राजेश, नाइक लाइंस दिनेश, जम्मू एवं कश्मीर के सब इंस्पेक्टर शकील काजी आतंकी हमले में शहीद हो गए। कर्नल शर्मा के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव लाया गया ।

Show More
Ramdinesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned