मोब लिंचिंग के खिलाफ बजरंगदल और वीएचपी का देश व्याप्ति आंदोलन

मोब लिंचिंग के खिलाफ बजरंगदल और वीएचपी का देश व्याप्ति आंदोलन
हिन्दुओं के खिलाफ षणयंत्र और बदनाम करने की साजिश के खिलाफ होगा शांति पूर्ण प्रदर्शन
कलेक्टर कार्यालय के सामने प्रदर्शन के बाद देंगे ज्ञापन

By: Ramdinesh Yadav

Published: 08 Jul 2019, 09:14 PM IST

मुंबई। मोब लिंचिंग के खिलाफ बजरंग दल और विश्वहिंदू परिषद् संगठन के लोग एकत्र होकर आगामी 9 जुलाई को देश व्यापी प्रदर्शन करेंगे। पिछले कुछ महीनो से हिन्दुओं पर कुछ अज्ञात लोगों और संगठन के माध्यम से होने वाले जेहादी हमले और षड़यण्त्र कर हिन्दुओं को बदनाम करने के खिलाफ यह प्रदर्शन किया जायेगा। बजरंगदल और वीएचपी के लोगों का आरोप है कि झूठे मामले में फंसाकर हिन्दुओं को बदनाम किया जा रहा है। हिन्दुओं के खिलाफ यह एक साजिश और षणयंत्र है। झूठे और फर्जी विडिओ बनाकर समाज में कटुता फैला रहे हैं। अंकित सक्सेना , चन्दन गुप्ता , ध्रुव त्यागी मोब लिंचिंग के शिकार हुए हैं। इस मामले में सरकार को आगे आकर न्याय देना होगा।
विश्व हिन्दू परिषद् के संयुक्त महासाहसि मिलिंद परांदे ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हिन्दुओं के साथ मोब लिंचिंग की समस्या को लेकर सरकार से पहले ही सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की गई है। राष्ट्रपति को भी इस बारे में पत्र लिखकर ज्ञापन दिया गया है। ज्ञापन के माध्यम से मांग की गई है कि जेहादी और इस्लामिक संगठन ने मोब लिंचिंग की घटनाओ को अंजाम दिया है। उनके खिलाफकड़ी करवाई की जानी चाहिए। लेकिन सरकार की ओर से अबतक कोई ठोस उपाय योजना नहीं पेश किये जाने से नाराज वीएचपी और बजरंगदल के लोगों ने मंगलवार को देश भर में शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है। लोग एकत्र होकर कलेक्टर कार्यालय के बाहर प्रदर्शन करेंगे। और मोब लिंचिंग से बचाने के लिए ज्ञापन देंगे। इस बारे में श्रीराज नायर ने बताया कि पिछले 5 वर्षों से बिना काम के बैठे कुछ नेता हिन्दूओ को बदनाम करने के लिए साजिश रच रहे हैं। झूठे और फर्जी विडिओ बनाकर समाज में कटुता फैला रहे हैं। अंकित सक्सेना , चन्दन गुप्ता , ध्रुव त्यागी मोब लिंचिंग के शिकार हुए हैं। ऐसे कई है। इन लोगों को न्याय के लिए सरकार से गुहार लगाई जा रही है।

Ramdinesh Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned