फिर लड़खड़ाया मुंबई ट्रांसपोर्ट सिस्टम

 

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मुंबई.बारिश ने सप्ताह के पहले दिन लाखों मुंबईकरों को बेहद परेशानी में डालकर एक बार फिर मुंबई का ट्रांसपोर्ट सिस्टम बिगड़ गया। इससे पहले शुक्रवार को पहली बारिश में मुंबई के लोगों को परेशान किया था। सोमवार को भी सेन्ट्रल वेस्टर्न रेलवे की लोकल सेवाएं लडख़डा गयीं। बेस्ट सेवाएं भी बुरी तरह से प्रभावित रहीं। सड़कों पर पानी भर गया, कई इलाकों में लोग ऑटो टैक्सी के लिए परेशान हुए। बारिश के चलते सेंट्रल रेलवे और वेस्टर्न रेलवे की बहुत सी सेवाएं रद्द करनी पड़ी। पीक आवर में सेंट्रल-वेस्टर्न की ट्रेनें 30 से 45 मिनट की देरी से चलतीं रहीं। इससे लाखों लोग काम पर देर से पहुचें।

By: Arun lal Yadav

Updated: 01 Jul 2019, 11:26 AM IST

मिली जानकारी के अनुसार सोमवार सुबह वेस्टर्न रेलवे के मरीनलाईन में ओएचई ओवर हेड वायर टूटने से यातायात सुविधा लड़खड़ाई। पीक आवर में आई इस परेशानी के चलते लोग परेशान हुए। वहीं सेन्ट्रल रेलवे के सायन कुर्ला के बीच रेलवे पटरी पर पानी भर जाने से लोकल सेवाएं बाधित हो गईं। इसके अलावा कई स्थानों पर पानी ट्रैक पर आ गया, जिससे सेन्ट्रल की सेवाएं 45 की देरी से चलती रहीं, सेन्ट्रल की कई ट्रेनें कैंसल भी करनी पड़ी। स्टेशनों पर यात्री परेशान नजर आए। गौरतलब है कि बीते शुक्रवार को पहली बारिश में सेंट्रल रेलवे के कांजुरमार्ग में पानी भर गया, जिससे रेलवे ट्रैक दिखना बंद हो गया। इससे एक के पीछे एक लोकल ट्रेनों की लाइन लग गई। अधिवेशन में जा रहे राज्यमंत्री रविन्द्र चव्हाण भी लोकल में फंसे।
इसके चलते वेस्टर्न और सेंटर लाइन से चलने वाली लम्बी दूरी की कई ट्रेनों को कैंसल कर दिया गया है। स्टेशनों पर यात्रियों में रेलवे की कार्यप्रणाली के प्रति गुस्सा नजर आ रहा था। बहुत से लोग ट्रेनों की बदहाली को देखते हुए, दूसरे साधनों की मदद से अपने गंतव्य तक पहुचे। ठाणे से यात्रा करने वाले संदीप का कहना है, जब रेलवे को पता है कि बारिश में दिक्कतें आती हैं, फिर क्यों समुचित उपाय नहीं किये जाते!?

अधिवेशन में जा रहे राज्यमंत्री रविन्द्र चव्हाण भी लोकल में फंसे...
डोम्बिवली विधानसभा से चुनकर राज्य में मंत्री बने अन्न पुरवठा राज्य मंत्री रविन्द्र चव्हाण सोमवार सुबह डोम्बिवली से मुंबई अधिवेशन में जाने के लिए निकले थे लेकिन लड़खड़ाई लोकल में वह भी फंस गए और घन्टो ट्रेंन चलने का इंतजार करना पड़ा।

Arun lal Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned