रोज 30 हाजार लोगों को खिलाई जा रही है खिचड़ी

अब तक साढ़े चार लाख खिचड़ी खिलाई गई

By: Arun lal Yadav

Updated: 18 Apr 2020, 06:42 PM IST

मुंबई. मुंबई की सात संस्थाएं मिलकर रोज तीस हजार लोगों को खिचड़ी खिला रही हैं। इसके लिए कुल 250 लोग लगातार काम कर रहे हैं। इनमें 150 लोग वालंटियर के रूप में काम कर रहे हैं और 100 लोगों को काम की मजदूरी दी जा रही है। अब तक इन संस्थाओं ने साढ़े चार लाख लोगों को भोजन कराया है। इस काम में राजस्थानी, गुजराती, मराठी हर भाषा के लोग जुड़े हुए हैं।

गौरतलब है कि कोरोना के चलते लंबे बंदी के दौरान बड़े पैमाने पर निचले तबके के लोगों की दशा खराब है। रोज कमाने खाने वालों के सामने भोजन की समस्या आन पड़ी है। ऐसे में मुंबई भर में हजारों संस्थाएं लोगों की मदद कर रही है। अंधेरी के जेबी नगर में सात संस्थाएं मिलकर एक साथ काम कर रही हैं। ये रोज तीस हजार लोगों को खिचड़ी तैयार करते हुए दे रहे हैं।

सत्यनारायण गोयंका भवन के मंत्री योगेंद्र राजपुरिया ने बताया कि हम सभी मिलकर पिछले 21 दिन से लोगों को भोजन करा रहे हैं। विशाल टिबरेवाला के निर्देशन में यह क्युनिटी किचन का काम चल रहा है।

हम जेबी नगर के घनश्याम पोतदार स्कूल और सत्यनारायण गोयंका भवन में भोजन बना रहे हैं। जहां से शहर के विविध इलाकों में भोजन भेजा जाता है। विशाल के निर्देशन पर 250 लोग काम कर हरे हैं। उन्होंने बताया कि हम हर व्यक्ति के भोजन की व्यवस्था कर रहे हैं।

12 से 15 घंटे तक लोक कर रहे हैं काम
राजपुरिया ने बताया कि हमारे लोग सुबह पांच बजे से काम शुरू कर देते हैं और रात को आठ बजे तक भोजन बनता रहता है। नौ से 10 बजे तक लोगों तक भोजन पहुंचाया जाता है।

इनमें कुछ लोग व्यापारी हैं और ज्यादातर लोग नौकरीपेशा हैं। इनका सेवा भाव देखते बनता है, सभी सुबह पहुंच जाते हैं, कोई सब्जी काटने में मदद करता है, कोई पैकिंग, कोई लिस्ट चेक करता है, तो कोई लोगों तक खाना पहुंचाने का काम देखता है। लोग सेवा भाव से भरे हुए अथक मेहनत कर रहे हैं।

Arun lal Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned