शेलार और मुंडे में ट्वीट वार

फब्तियां : एक-दूसरे पर जम कर उछाले छींटे

By: Nitin Bhal

Published: 29 Mar 2019, 09:39 PM IST

मुंबई। भाजपा के मुंबई अध्यक्ष आशीष शेलार और विधान परिषद् में विपक्ष नेता धनंजय मुंडे के बीच इन दिनों ट्विटर वार चल रहा है। पिछले दो दिनों से दोनों एक-दूसरे पर जम कर छीटें उड़ा रहे हैं। एक-दूसरे के करीबी दोस्त माने वाले शेलार और धनंजय अब चुनावी माहौल में कविता के स्टाइल में एक-दूसरे की छवि मलिन करने में जुट गए हैं। इनके आपसी कविता व्यंग्य को देखकर रिपाई अध्यक्ष रामदास अठावले ने भी जवाबी कविता में कहा कि कोई कितनी भी कोशिश कर ले लेकिन उनकी नकल नहीं कर सकता है। अठावले ने शेलार का बचाव भी किया। शुक्रवार को तो हद हो गई जब आशीष शेलार ने अपने ट्वीट में मुंडे को शोले फिल्म के डायलॉग में कहा कि ‘अबे ओ सांभा तेरे पीछे कितने गब्बर छिपे है ओ देख ले, लड़लो धन्नो’ शेलार ने ट्वीट में कहा कि जिस पार्टी के खून में राष्ट्रवाद है वैसी पार्टी और अपने खून के काका -बहन को छोडक़र नाम के राष्ट्रवाद वाली पार्टी के काका (राकांपा सुप्रीमो शरद पवार) और बहन (सुप्रिया सुले) के साथ जाने वाला आदमी वफादार कैसे हो सकता है। यह सवाल उठाते हुए शेलार ने मुंडे पर तंज कसा हैं। कहा कि खून के रिश्ते के वफादार नहीं रह सके वे अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के काका के प्रति वफादारी निभाने दावा कर रहे हैं। जिसके जवाब में थोड़ी देर में धनंजय मुंडे ने भी ट्वीट किया और कहा कि शेलार को कमला बाई (भाजपा) का आशीष नहीं मिला उन्हें मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने खूब इस्तेमाल किया और फिर फेंक दिया। मंत्री पद का लालच तो दिया लेकिन, दिया नहीं। शेलार पर मुंडे ने तंज कसा कहा कि फडणवीस के चढ़ावे में आकर शेलार ऊपर नीचे होने लगे, कई बिना आरोप के आरोप किए लेकिन कमला बाई का आशीष नहीं मिला।

BJP
Nitin Bhal Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned