वायु चक्रवात: मायानगरी से 250 किमी दूर समंदर से गुजरात की ओर बढ़ा

वायु चक्रवात: मायानगरी से 250 किमी दूर समंदर से गुजरात की ओर बढ़ा
वायु चक्रवात: मायानगरी से 250 किमी दूर समंदर से गुजरात की ओर बढ़ा

चर्चगेट में विज्ञापन बोर्ड का पतरा गिरा, एक राहगीर की मौत, दो घायल, बांद्रा (वेस्ट) में स्काइ वाक का हिस्सा गिरा, तीन महिलाएं जख्मी, तेज हवा के साथ हल्की बारिश, कई जगह गिरे पेड़

 

मुंबई
चक्रवाती तूफान वायु मायानगरी को ज्यादा नुकसान पहुंचाए बिना मुंबई से 250 किमी दूरी से गुजरात की ओर बढ़ गया। हालांकि बुधवार को महानगर और आसपास के इलाकों में दिन भर बादल छाए रहे। तेज हवा के साथ कई जगहों पर बारिश भी हुई। गेटवे ऑफ इंडिया, नरीमन प्वाइंट, वर्ली, दादर, जुहू चौपाटी आदि जगहों पर समुद्र की ऊंची लहरें दिन भर चक्रवात की भयावहता का अहसास मुंबईकरों को कराती रहीं। तेज हवा के चलते महानगर में कई पेड़ गिर पड़े। कई जगहों पर पेड़ों की डालियां भी गिरीं। चर्चगेट स्टेशन पर लगे विज्ञापन बोर्ड का एक हिस्सा हवा के दबाव के चलते गिर पड़ा, जिसकी चपेट में आने से एक राहगीर की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हो गए। बांद्रा (वेस्ट) के एसवी रोड पर स्काइ वाक का हिस्सा गिरने से तीन महिलाएं जख्मी हो गईं। चक्रवात के प्रभाव में मुंबई सहित महाराष्ट्र के कोकण क्षेत्र में भारी बारिश का अनुमान लगाया गया था। कुछ इलाकों में तेज तो कुछ जगहों पर हल्की बारिश हुई। समुद्र में ऊंची लहरें उठीं, जबकि हवा की रफ्तार 50 किमी प्रति घंटे के पार रही। बीएमसी सहित तमाम एजेंसियों ने भारी बारिश से निपटने की तैयारी कर रखी थी। चक्रवात के मुंबई तट से गुजरने के बाद सरकार और बीएमसी ने राहत की सांस ली है।

जारी किया था हाई अलर्ट

मौसम विभाग (मुंबई) के उप-महाप्रबंधक केएस होसालकर ने बुधवार को ट्विट कर महानगर सहित आसपास के इलाकों में भारी बारिश की संभावना जताई थी। इसे देखते हुए बीएमसी सहित सभी एजेंसियां हाई अलर्ट पर थीं। होसालकर ने मुंबईकरों को सावधान किया था कि खराब मौसम के चलते जरूरी दवाएं और राशन का इंतजाम कर लें। विभाग की ओर से यह सुझाव भी दिया गया कि जरूरी न हो तो घर से बाहर नहीं निकलें। पेड़ों के नीचे खड़े होने से भी मना किया गया था।

अब मुंबई पर कोई खतरा नहीं

मौसम पर नजर रखने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट के उपाध्यक्ष महेश पलावत ने बताया कि चक्रवात मुंबई से 250 किमी दूर से गुजर गया। अब मुंबई को वायु से कोई खतरा नहीं है। बुधवार को महानगर सहित आसपास के इलाकों में अच्छी बारिश हुई, पर अब दो दिन कम बारिश होगी।

15 जून तक पहुंचेगा मानसून

पलावत ने बताया कि तूफान के असर के बावजूद मानसून सही दिशा में बढ़ रहा है। संभावना है कि मानसून 15 जून तक मुंबई पहुंच जाएगा। उल्लेखनीय है कि मुंबई सहित महाराष्ट्र के तटीय इलाकों के साथ ही गोवा में पिछले तीन दिनों से मानसून पूर्व बारिश हो रही है।

मुंबई से 350 किमी दूर निकला वायु

होसालकर ने बताया कि वायु महाराष्ट्र के तटीय इलाके से 350 किमी दूर निकल गया है। यह तेजी से गुजरात की ओर बढ़ रहा है। पश्चिम रेलवे ने सावधानी बरते हुए गुजरात के वेरावल, कच्छ, द्वारका की तरफ जाने वाली कई ट्रेनें रद्द कर दी हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned