20 एकड़ गन्ने की फसल जली

समय पर नहीं पहुंचा अग्निशमन दस्ता

By: Amil Shrivas

Published: 10 Feb 2018, 12:16 PM IST

लोरमी. चिल्फी चौकी अंतर्गत ग्राम सहसपुर व चिल्फी के 6 किसानों के गन्ने के फसल में आग गई। आग से 15 एकड़ के फसल जलकर नष्ट हो गई। वहीं आग बुझाने के लिए समय पर अग्निशमन दस्ता नहीं पहुंच पाया। इस आग से किसानों को नुकसान लाखों रुपए नुकसान हुआ है। पीडि़त किसानों ने मुआवजे की मांग की है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम सहसपुर निवासी किसान मोहित साहू पिता सदाराम, अश्वनी साहू पिता बलदेव, घनश्याम साहू पिता सदई राम साहू, केशव पटेल पिता परदेशी पटेल, कृष्णा साहू पिता मैतू राम साहू, संतोष पिता गौकरणर निवासी खपरीकला अपने खेत में गन्ने का फसल उगाये थे। पास में ही किसी अन्य किसान के खेत है। उसने खरपतवार को बुझाने के लिए आग लगाया था। इसी बीच हवा चलने आग एक खेत से दूसरे खेत में चली गई और देखते-देखते आग भयानक रूप लेकर 10 एकड़ में फैल गई। आग लगते ही फायर ब्रिगेड की मदद चाही गई लेकिन तत्काल नहीं मिल पाई, जिससे आग और तेजी के साथ फैलती गई और पूरी तरह से गन्ने की फसल को अपने चपेट में ले लिया। किसान एक तरफ आग बुझा रहे थे तो दूसरी तरफ उनकी आंखों से आंसू बह रहे थे, क्योंकि गन्ने की फसल काटने की कगार पर पहुंच चुकी थी। अब उनको कर्ज की चिंता सता रही है। गन्ने की फसल जलने से नुक्सान की स्तिथि बन गयी है। ग्रामीण परेशान हैं और इससे उभरने के तरीके की तलाश में लग गए हैं। एक आम किसान के लिए फसल का नुक्सान कई समस्याओं का कारण बन जाता है। ऐसे समय में अब सरकार या बैंक से ही आसरा है। नयी फसल लगाकर या बचे हुए माल को बेचकर ही अब कुछ राहत पायी जा सकती है। जिस खेत में सबसे पहले आग लगी, उसमें किसान मजदूर लगाकर फसल को कटवा रहे थे। आग की लपटें देख मजदूरों ने वहां से भाग कर अपनी जान बचाई।

 

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned