रास्ता विवाद के बाद बटालियन के जमीन का शुरू हुआ सीमांकन

रास्ता विवाद के बाद बटालियन के जमीन का शुरू हुआ सीमांकन

Murari Soni | Updated: 04 Jul 2019, 12:23:18 PM (IST) Mungeli, Mungeli, Chhattisgarh, India

10 दिनों में टीम को देना है सीमांकन रिपोर्ट

सकरी. दूसरी बटालियन सकरी के जमीन का सीमांकन कार्य राजस्व विभाग द्वारा सोमवार से शुरू कर दिया गया है। सीमांकन पश्चात किसानों को रास्ता दिलाए जाने की बात राजस्व विभाग द्वारा कही जा रही है।
ज्ञात हो कि 2017 में बटालियन प्रशासन द्वारा जब अपने जमीन पर बॉउंड्रीवाल निर्माण शुरू किया गया तब किसानों ने रास्ता छोड़कर निर्माण करने कहा था। तब वहां पदस्थ अधिकारियों द्वारा अपनी जमीन के सीमांकन कराने के लिए अतिरिक्त तहसीलदार उप तहसील कार्यालय सकरी में आवेदन किया था। इसके बाद तत्कालीन पदस्थ नायब तहसीलदार के निर्देश पर विवादित रास्ते की जमीन का सीमांकन किया गया था। बाद में जब बटालियन प्रशासन ने निर्माण जारी रखा तब किसानों द्वारा राजस्व न्यायालय में मामला दर्ज कराकर प्रकरण की सुनवाई कराई गई। बाद में राजस्व न्यायालय द्वारा किसानों के हक में फैसला देते हुए किसानों के आने.जाने के लिए रास्ता देने बटालियन प्रशासन को निर्देशित किया। इसके बावजूद बटालियन ने किसानों को रास्ता नहीं दिया। इसपर किसानों ने पुलिस मुख्यालय में शिकायत कर मामले का निराकरण करने आवेदन किया था। पुलिस मुख्यालय ने डीआईजी सरगुजा रेंज आरपी साव को जांच के लिए सकरी भेजा। बाद में बटालियन प्रशासन द्वारा अपने पूरे भूमि के सीमांकन की मांग की गई। कलेक्टर बिलासपुर द्वारा भी बटालियन की जमीन का सीमांकन करने विभाग को निर्देशित किया। इसपर सकरी नायब तहसीलदार अभिषेक राठौर द्वारा टीम गठित की गई, जिसमें आरआई तखतपुर संतोष देवांगन, आरआई गनियारी विघ्नेश सिंह, आरआई पेण्डारी मीना पांडेय, संजय कौशिक, अखिलेश साहू सकरी, महेन्द्र मिश्रा, पटवारी दिलशाद अहमद, बृजेश राजपुत, मुकेश साहू, सूरज दुबे, संतोष कौशिक, लता इदनानी, केशु खांडे सहित कुल 18 लोग शामिल रहे। टीम ने सोमवार को सीमांकन शुरू किया। मंगलवार एवं बुधवार को बारिश के कारण सीमांकन का कार्य आगे नहीं बढ़ सका। बटालियन प्रशासन के 153.53 एकड़ भूमि का सीमांकन कर 10 दिवस के अंदर प्रतिवेदन नायब तहसीलदार सकरी ने मांगा है।
&बटालियन प्रशासन के आवेदन पर एवं कलेक्टर के आदेश पर टीम गठित कर सीमांकन कार्य शुरू करवाया गया है दस दिन के अंदर सीमांकन प्रतिवेदन सौपने टीम को निर्देशित किया गया है।उसके बाद बटालियन प्रशासन से किसानों को रास्ता दिलवाया जाएगा।
अभिषेक राठौर, नायब तहसीलदार सकरी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned