अपनों से बचके रहना पराए घाव नहीं देते, प्रदूषण तो ये...

अपनों से बचके रहना पराए घाव नहीं देते, प्रदूषण तो ये...

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 11 2018 06:08:17 PM (IST) Mungeli, Chhattisgarh, India

कवि सम्मेलन: कवियों ने रचनाओं ने श्रोताओं को खूब गुदगुदाया

पेंड्रा. अरपांचल कला एवं साहित्यिक मंच एवं राष्ट्रीय कवि संगम पेण्ड्रा के तत्वावधान में पेण्ड्रा के असेंबली हॉल में कवि सम्मेलन का आयोजनन किया गया। कवि सम्मेलन में छत्तीसगढ़ सहित महाराष्ट्र के कवियों ने अपनी सुप्रसिद्ध रचनाओं से सभी श्रोताओं को झूमने पर मजबूर कर दिया।
युवा कवि आशुतोष 'आनंदÓ दुबे के संयोजन में आयोजित कवि सम्मेलन का शुभारंभ करते हुए राजनांदगांव से आए मनोज शुक्ला ने अपनी हास्य रचनाओं से सभी को खूब गुदगुदाया। उन्होंने पढ़ा- अपनों से बचके रहना पराए घाव नहीं देते, प्रदूषण तो ये शहर देते हैं मेरे गांव नहीं देते, और कभी सड़क किनारे एक पेड़ लगाओ यारों ये बिजली के खंभे कभी छांव नहीं देते। जैसे संदेशात्मक पंक्तियों से श्रोताओं का दिल जीत लिया। स्थानीय कवि आशुतोष 'आनंदÓ दुबे ने 'नहीं मैं कांग्रेसी भाजपाई ना सपाई हूूं, नहीं बहुजन का ना ही आप का मैं घरजमाई हूं, मेरी पहचान ना तोलो कभी तुम पार्टी वालों मैं हर इंसान के दु:ख दर्द की मीठी दवाई हूं।Ó से राजनीतिक पार्टियों पर कटाक्ष किया। दुर्ग से आए वीररस के कवि मयंक शर्मा ने सुनाया कि बाबूजी को ठंड में ठिठुरते जो देखा कभी सारे काम छोड़ वो रजाई खोजती रही, बेटे खोजने कागज वसीयत के बेटियां तो बाप की दवाई खोजती रही। पेण्ड्रा के कवि गणेश अग्रवाल पंकज ने अपनी व्यंग्य की धार से देश की व्यवस्था पर तीखा प्रहार किया। कवियित्री गोंदिया की सरिता सरोज ने अपनी सुमधुर आवाज से महफिल को खुशनुमा कर दिया। युवा गीतकार जयेंद्र कौशिक, राजिम के कवि काशीपुरी कुंदन, भिलाई से पधारे आलोक शर्मा, रायपुर के कवि लक्ष्मीनारायण फरार आदि अपनी रचनाओं से श्रोताओं को भाव विभोर कर उनकी तालियां बटोरी। मुख्य अतिथि अशोक वाडेगांवकर अनुविभागीय अधिकारी पुलिस, कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ प्रणब कुमार बनर्जी, विशिष्ट अतिथि एचएन सोनी, डीएस द्विवेदी व नपं अध्यक्ष अरुणा जायसवाल रहीं। कार्यक्रम का संचालन गीतकार रामेश्वर वैष्णव ने किया। इस आयोजन को सफल बनाने में अरपांचल समिति के राजेश अग्रवाल, अंकित बुंदेला, भूपेंद्र राठौर, अरविंद नामदेव, हेमंतराव वाघे, अक्षय तिवारी, दीपक सोनी, रावेंद्र शुक्ला, रवि शुक्ला व आनंद गोपाल सोनी आदि ने सहयोग दिया। कार्यक्रम संयोजक आशुतोष 'आनंदÓ दुबे ने आभार प्रदर्शन किया। इस दौरान भारी संख्या में श्रोता उपस्थित रहे।

छात्राओं ने बाढ़ पीडि़तों को भेजी मदद-रतनपुरञ्चपत्रिका. केरल बाढ़ पीडि़तों के सहयोग हेतु सरस्वती शिशु मंदिर रतनपुर के कन्या भारती किशोर भारती के छात्र-छात्राओं ने घर-घर जाकर लोगों को प्रेरित करते हुए धन संग्रह किया। साथ ही शिक्षक दिवस के आयोजन से पैसे बचाकर कुल राशि 6410 रुपए समिति के अध्यक्ष अनूप कुमार पांडेय को भेंट किया। बच्चों के इस श्रेष्ठ भावनाओं का सम्मान करते हुए विद्यालय के आचार्यों ने भी बढ़-चढ़कर सहयोग किया। कन्या भारती की तनुश्री गुप्ता, सिद्धि कसेर, तोषिका यादव, श्रीधरा दुबे, अंजली धीवर, नेहा कश्यप, कल्पना कश्यप, सादिया खान, निकिता राजपूत, कन्या भारती प्रमुख कीर्ति कहरा, छात्रसंघ प्रभारी भारत सूर्यवंशी, श्याम सुंदर तिवारी, अरविंद पुरैना, यश कश्यप, श्रेयांश शेष, एजाज खान, विनय यादव व ऋषि श्रीवास आदि का विशेष सहयोग रहा। विद्यालय के व्यवस्थापक सुरेश सोनी व प्राचार्य मुकेश श्रीवास्तव ने इस नेक कार्य के लिए अपनी शुभकामनाएं दी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned