पौधरोपण कार्य समय सीमा के भीतर पूरा करें अधिकारी

कलेक्टर ने की पौधरोपण कार्यक्रम की समीक्षा

By: Amil Shrivas

Published: 24 Jul 2018, 10:28 AM IST

मुंगेली. कलेक्टोरेट स्थित मनियारी सभाकक्ष में कलेक्टर डी सिंह ने सोमवार को समय सीमा के अंतर्गत अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि हरियर छत्तीसगढ़ योजना के तहत पौधरोपण का कार्य समय सीमा के भीतर पूरा करें। उन्होंने अब तक किए गए पौधरोपण कार्य की समीक्षा की।
उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मुख्यमंत्री जनदर्शन, कलेक्टर जनदर्शन, मुख्य सचिव से प्राप्त आवेदनों, पीजी पोर्टल, जनशिकायत निवारण प्रकोष्ठ एवं विभिन्न विभागों से प्राप्त आवेदनों का निराकरण सुनिश्चित करें। फ्लेगशिप के सात योजनाओं को आगे बढ़ाने अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना, सुरक्षा बीमा योजना, मिशन इंद्रधनुष, सौभाग्य योजना, उजाला योजना एवं उज्ज्वला योजना का बेहतर क्रियान्वयन करते हुए पूर्व में चिन्हित 42 गांवों के अलावा अन्य ग्रामों के हितग्राहियों को लाभान्वित करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर सिंह ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास से कहा कि सांसद, विधायक आदर्श ग्रामों में विभागों द्वारा कराए गए कार्यों की चार्ट बनाएं, ताकि पता लग सके कि किस-किस विभाग द्वारा क्या-क्या कार्य कराए गए हंै। इसी तरह बैगा विस्थापित ग्राम तथा ग्राम झिरिया में क्रियान्वित कार्यों की भी जानकारी ली। अत्यंत पिछड़ी जनजातियों को राशनकार्ड और हेल्थ स्मार्ट कार्ड की उपलब्धता सुनिश्चित करने कहा। प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ के कार्यपालन अभियंता से कहा कि पथरिया विकासखण्ड के ग्राम जगताकापा में सडक़ मरम्मत कार्य और निर्मित यात्री प्रतीक्षालयों का हस्तांतरण कार्य सुनिश्चित करें। ग्राम हथकेरा में नलजल प्रदाय योजना और विभिन्न शालाओं के लिए स्वीकृत हैण्डपंप खनन के संबंध में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन अभियंता को आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने महिला बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित किया कि शिकायतों का निराकरण और योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाएं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, खाद्य अधिकारी को विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन में सुधार लाने के निर्देश दिए गए। बैठक में जिला पंचायत सीईओ लोकेश चंद्राकर, वनमण्डलाधिकारी केके जाधव, एटीआर के उपसंचालक मनोज पाण्डेय, डिप्टी कलेक्टर द्वय अनुराधा अग्रवाल, आरआर चुरेन्द्र व जिला पंचायत के परियोजना अधिकारी एसएन मिश्रा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
इन विभागों ने लगाए इतने पौधे : बैठक में बताया गया कि उद्यान विभाग द्वारा 25 हजार, शिक्षा विभाग द्वारा 12500, कृषि विभाग द्वारा 13500, महिला बाल विकास विभाग द्वारा 2 हजार, प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ 12 हजार, खनिज 1300, लोक निर्माण 200, नगर पंचायत सरगांव 475, पथरिया 400, पशुपालन विभाग 3000, उद्योग विभाग 700, एलडीएम 950, आयुर्वेद विभाग 500, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग 850, सहायक पंजीयक 400, रेशम विभाग 15 हजार, आदिवासी विकास विभाग और खाद्य विभाग 2-2 हजार एवं वन विभाग द्वारा हरियाली प्रसार योजना के तहत 1 लाख पौधे रोपित किए गए हैं।

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned