शाला की पहचान अच्छे छात्रों से नहीं, अच्छे व्यक्तित्व वाले शिक्षक से होती है- मोहले

शाला की पहचान अच्छे छात्रों से नहीं, अच्छे व्यक्तित्व वाले शिक्षक से होती है- मोहले

Anil Kumar Srivas | Publish: Sep, 08 2018 01:00:20 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 01:00:21 PM (IST) Mungeli, Chhattisgarh, India

मुख्यमंत्री गौरव अलंकरण शिक्षक सम्मान समारोह

मुंगेली. मुख्यमंत्री गौरव अलंकरण शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन पंडित शिवकुमार पाठक सभाकक्ष बीआर साव. हायर सेकेण्डरी स्कूल में आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री पुन्नूलाल मोहले ने कहा कि एक विद्यालय का नाम अच्छे छात्रों से नहीं बल्कि बेहतरीन व्यक्तित्व वाले शिक्षकों से होता है। शिक्षकों के पास वो कला होती है जो मिट्टी को सोने में बदल सकती है।

कार्यक्रम अध्यक्ष सांसद लखनलाल साहू ने कहा कि हर व्यक्ति की सफलता की नींव में एक शिक्षक की महती भूमिका होती है। शिक्षक की प्रेरणा से ही व्यक्ति ऊंचाई प्राप्त करता है। विधायक तोखन साहू ने कहा कि जन्म देने वाले से ज्यादा महत्व शिक्षक को होता है। इसके पूर्व सभी अतिथियों द्वारा मां सरस्वती की पूजा अर्चना एवं सर्वपल्ली डॉ राधाकृष्णन के तैलचित्र पर माल्यार्पण कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। अतिथियों का स्वागत जिला शिक्षा अधिकारी एनके चंद्रा, एडीपीओ अजय नाथ, विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी पीएस बेदी, डीएल डहरिया, प्राचार्य एसडी बंजारे के द्वारा किया गया। स्वागत प्रतिवेदन डीईओ चंद्रा ने पढ़ा। इस अवसर पर राज्य शिक्षक सम्मान से अलंकृत होने वाले जयमंगल सिंह ध्रुव प्राचार्य शा.उ.मा. शाला करही एवं शिवप्रसाद कौशिक व्याख्याता शा.उमा शाला बैतलपुर के साथ अगले वर्ष राज्य शिक्षक सम्मान हेतु नामांकित रूपचंद पाटले प्रधान पाठक शा.उमा शाला बाकी का विशेष रूप से सम्मान अतिथियों द्वारा किया गया। सम्मान समारोह में प्राथमिक स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाले जिले के 09 शिक्षकों को शिक्षादूत पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इनमें विकासखण्ड मुंगेली से ब्रजेश दिक्षित प्राथमिक शाला मदनपुर, बलदाऊ साहू प्राथमिक शाला नवागांव (टे.), दिनेश सराफ करही, विकासखण्ड पथरिया से बीएल धूरी प्राथमिक शाला खैरझिटी, विश्वनाथ राजपूत प्राथमिक शाला त्रिभुवनपुर, लक्ष्मीन अंचल प्राथमिक शाला डाकाचाका, विकासखण्ड लोरमी से ललिता शर्मा प्राथमिक शाला सेमरसल, समीक्षा त्रिपाठी प्राथमिक शाला पेण्ड्रीतालाब एन, रामेश्वर सिंह ध्रुव प्राथमिक शाला सुकली को 5-5 हजार रुपए चेक एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया गया। इसी तरह पूर्व माध्यमिक स्तर से तीन शिक्षकों को ज्ञानदीप पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इनमेंं अमिताभ शर्मा पूर्व माध्यमिक शाला फंदवानी, दयाराम साहू पूर्व माध्यमिक शाला गोडख़ाम्ही, गोवर्धन साहू पूर्व माध्यमिक शाला कंचनपुर को 7-7 हजार रुपए का चेक एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस वर्ष सेवानिवृत्त होने वाले जिले के 20 शिक्षकों का भी सम्मान शाल एवं श्रीफल से किया गया। श्रेष्ठ शैक्षिक समन्वयक के लिए मुंगेली के गौकरण डिण्डोले, लोरमी से मिल्लूराम यादव एवं पथरिया से मोहित खाण्डे को सम्मानित किया गया। श्रेष्ठ खण्ड स्रोत समन्वयक के रूप में देवचरण डाहिरे खण्ड स्रोत समन्वयक मुंगेली को सम्मानित किया गया। जिले में हाईस्कूल, हायर सेकेण्डरी परीक्षा में शत प्रतिशत परीक्षा परिणाम प्राप्त करने वाले शासकीय उ.मा.शाला मदकू, अण्डा एवं बैहाकापा तथा हाईस्कूल मर्राकोना एवं भालूखोंदरा के प्राचार्यों को भी विशेष रूप से सम्मानित किया गया। एनसीसी अधिकारी एससी दीक्षित एवं व्यायाम शिक्षक रामभजन देवांगन के साथ कपील अनंत का भी विशेष रूप से सम्मान अतिथियों के द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन अशोक सोनी ने एवं आभार प्रदर्शन बीईओ मुंगेली डीएल डहरिया ने किया। इस अवसर पर बड़ी संख्या में प्राचार्य, शिक्षक एवं नागरिकगण उपस्थित थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned