उम्मीदों पर पानी, सकरी को न तहसील न ब्लॉक का दर्जा

उम्मीदों पर पानी, सकरी को न तहसील न ब्लॉक का दर्जा

Amil Shrivas | Publish: Sep, 06 2018 01:46:26 PM (IST) Mungeli, Chhattisgarh, India

इंतजार: सीएम के विकासयात्रा से सकरी परिक्षेत्र को हुई निराशा

सकरी. प्रदेश सरकार द्वारा तखतपुर विधानसभा में निकाले गए विकासयात्रा से सकरी परिक्षेत्र के लोगों को निराशा हाथ लगी। सकरी परिक्षेत्र के लोगों ने रमन सिंह की सरकार से विकासयात्रा में सकरी को पूर्ण तहसील एवं ब्लाक का दर्जा दिए जाने की घोषणा की उम्मीद थी लेकिन इस बार भी ये उम्मीद पूरी नहीं हो सकी।
ज्ञात हो कि प्रदेश सरकार द्वारा विकासयात्रा के दूसरे चरण में बुधवार को विकासयात्रा तखतपुर विधानसभा पहुंची, जहॉ सकरी परिक्षेत्र के लोगों को ये उम्मीद थी कि मुख्यमंत्री अपने कार्यक्रम के दौरान सकरी को पूर्ण तहसील एवं ब्लाक का दर्जा दिए जाने की घोषणा करेंगे। लेकिन सीएम ने दोनों ही मुददे का जिक्र भी नहीं किया।
पूर्ण तहसील के लिए शर्तों को करता है पूरी: विदित हो कि वर्तमान में सकरी को उपतहसील का दर्जा प्राप्त है। वहीं राजस्व प्रकरणो की दृष्ट्रि से सकरी उपतहसील कार्यालय पूर्ण तहसील के लायक है। रजिस्ट्री से प्राप्त राजस्व के मामलें में भी सकरी परिक्षेत्र अग्रणी है। जिला मुख्यालय से लगे होने के कारण यहॉ के जमीनों का बाजार मूल्य भी अधिक है। इसके पंजीयन पर शासन को मोटी रकम राजस्व के रूप में मिलती है। राजस्व प्रकरणों के मामले में सकरी उपतहसील कार्यालय में प्रतिदिन औसतन 8 राजस्व मामलें दर्ज होते हैं। इस दृष्ट्रिकोण से भी सकरी को पूर्ण तहसील का दर्जा मिलना न्यायोचित है। लोगों को इसकी उम्मीद भी थी लेकिन मुख्यमंत्री द्वारा इस विषय के संबंध में अपने उदबोधन के दौरान कोई चर्चा ही नहीं की गई। इसी तरह ब्लाक निर्माण के दृष्ट्रिकोण से देखा जाए तो खरकेना से तखतपुर की दूरी काफी अधिक है इसी तरह उसलापुर,अमेरी जैसे गॉव के लोगों को अपने कार्य के लिए तखतपुर जाना पड़ता है और उन्हें विभिन्न प्रकार की असुविधा होती है । क्षेत्रफल की दृष्ट्रिकोण से भी सकरी को ब्लाक बनाया जाना वाजिब है। लेकिन ये मुददा भी सिर्फ मुददा रह गया इस पर भी कोई चर्चा नहीं की गई।
पूरानी मांगे भी नहीं हो सकी अबतक पूरी
2016 में नगर के बचन बाई विद्यालय में विकास पर्व का आयोजन किया गया था। यहां केंन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थित में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मंच से हायर सेकेण्डरी स्कूल भवन, मिनी स्टेडियम की घोषणा की गई थी, जिसकी प्रक्रिया आज तक कागजों में ही चल रही है और मूर्त रूप से कोसो दूर है।
स्थानीय जनप्रतिनिधि रहे बेअसर
सकरी परिक्षेत्र के विभिन्न प्राथमिक जरूरतों से वाकिफ होने के बाद भी स्थानीय भाजपा संगठन एवं जनप्रतिनिधियों ने इन मुददो को लेकर कभी भी कोई विशेष पहल नहीं की और न ही दबाव बना पाए, जिसके कारण न ही सकरी पूर्ण तहसील एवं ब्लाक हुआ न ही पूर्व की घोषणाओ पर अमल हुआ।
&विकासयात्रा में मुख्यमंत्री द्वारा सकरी उपतसहील कार्यालय को पूर्ण तहसील का दर्जा दिए जाने की उम्मीद थी जो पूरी नहीं हुई। निराशा हाथ लगी।
रामभरोस टोण्डे, अधिवक्ता सकरी
& विकासयात्रा में सकरी परिक्षेत्र के लिए कोई घोषणा नहीं की गई और न ही पूर्व किए गए घोषणा आज तक मूर्त रूप ले सका है। ये दुर्भाग्यजनक है।.
राजेश देवांगन , अध्यक्ष युवा कांग्रेस तखतपुर विधानसभा।
सर्व समाज का
मुंगेली बंद आज
मुंगेली. अनुसूचित जाति जनजाति एक्ट के विरोध में सर्व समाज द्वारा भारत बंद के आह्वान पर मुंगेली बंद की अपील की गई है। सर्व समाज ने व्यापारियों से अपील की है कि सभी अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखकर इसे सफल बनाने में सहयोग करें। बंद को चेम्बर ऑफ कामर्स का समर्थन प्राप्त है।
अजा की कांग्रेस इकाई की बैठक आज
मोपका. अनुसूचित जाति वर्ग की बैठक ६ सितंबर को होगी। इसमें संगठन को मजबूत करने व राष्ट्रीय सचिव के आगमन को लेकर चर्चा होगी। अजा प्रकोष्ठ की जिलाध्यक्ष मीना आडिल ने बताया कि विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अजा के राष्ट्रीय सचिव एवं प्रभारी हरनाम सिंह 10 सितंबर को शहर आएंगे। अजा विभाग के प्रदेश अध्यक्ष धनेश पाटिला एवं कार्यकारी अध्यक्ष शिव डहरिया की मौजूदगी में मस्तूरी, बेलतरा विधानसभा के कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों से मुलाकात करेंगे। यहां तखतपुर, बिल्हा एवं जिले के 7 विधानसभा क्षेत्र के दावेदारों से रायशुमारी करेंगे।

Ad Block is Banned