Post office Scheme से मात्र एक हजार रुपए के निवेश से कर सकते हैं कमाई की शुरूआत

  • Post Office की इस स्कीम में एक हजार रुपए से की जा सकती है निवेश की शुरुआत
  • Post Office Scheme में अकेले या फिर अपने पार्टनर के साथ खोल सकते हैं Joint Account

By: Saurabh Sharma

Updated: 05 Jul 2020, 04:52 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस लॉकडाउन के दौर ( Coronavirus Lockdown Phase ) में इक्विटी मार्केट में निवेशकों ( Equity Market Investors ) को काफी नुकसान हुआ। वहीं दूसरी ओर म्यूचुअल फंड ( Mutual ) और एसआईपी में निवेश ( SIP Investment ) भी नुकसान की ओर ही इशारा कर रहा है। सरकार की ओर से दूसरी स्मॉल सेविंग स्कीम ( Small Savings Schemes ) में ब्याज दर भी कम की हैं। ऐसे में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम ( Post Office Monthly Scheme ) लोगों को हर महीने कमाई करने का मौका दे रही है। अगर आप अकेले निवेश करते हैं तो 1000 रुपए से 4.5 लाख रुपए तक का निवेश कर सकते हैं। वहीं ज्वाइंट इंवेस्टमेंट के तहत 9 लाख रुपए का एकमुश्त निवेश किया जा सकता है। जिसके बाद आपको हर ब्याज का मिलने रुपया आपको कमाई कराता है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर इस योजना के बारे में...

बढ़ा Foreign investors का विश्वास, जून में 15 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंचा Foreign Investment

स्कीम के फायदे?
- ज्वाइंट अकाउंट खुलवाने पर ब्याज के यप में मिलने वाली इनकम को दोनों अकाउंट में बराबर दी जाती है।
- ज्वाइंट अकाउंट को किसी भी वक्त सिंगल में और सिंगल को ज्वाइंट में कंवर्ट किया जा सकता है।
- अकाउंट में किसी तरह का चेंज कराने से पहले आपको ज्वाइंटली एप्लीकेशन देना होगा।

April और May के महीने में Gold Import में आई भारी कमी, जानिए सरकार के आंकड़े

कुछ इस तरह की हैं शर्तें
- अगर आपको अकाउंट खुलवाए एक साल नहीं हुआ है तो आप उसमें से रुपया नहीं निकाल सकेंगे।
- अगर निवेश को एक से 3 साल हुए हैं तो आपको 2 फीसदी काटकर रुपया मिलेगा।
- 3 साल के निवेश के बाद और स्कीम मैच्योरिटी से रुपया निकालने पर एक फीसदी काटा जाएगा।

अगर आप भी Bank Account से निकालते हैं 20 लाख रुपए से ज्यादा, जान लीजिए क्या कहता है SBI का नियम

स्कीम की कुछ खास बातें
- अकाउंट को आप किसी भी पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करा सकते हैं।
- स्कीम के 5 साल पूरे होने पर आप दोबारा इंवेस्टमेंट कर सकते हैं।
- स्कीम में नॉमिनी भी नियुक्त हो सकता है, ताकि मूल निवेशी को कुछ होने पर नॉमिनी को रुपया मिल सके।
- इस स्कीम में आपको ब्याल पर टैक्स देना होता है, टीडीएस नहीं कटेगा।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned