Coronavirus के चलते LIC ने पॉलिसीधारकों को दी बड़ी राहत, 15 अप्रैल तक कर सकेंगे प्रीमियम भुगतान

  • LIC ने बढ़ाई 15 अप्रैल 2020 तक प्रीमियम भुगतान करने की सीमा
  • देश के करीब 80 शहरों में लॉकडाउन की स्थिति चलते लिया फैसला

By: Saurabh Sharma

Updated: 23 Mar 2020, 12:45 PM IST

नई दिल्ली। देश क पब्लिक सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक भारतीय जीवन बीमा निगम ने अपने पॉलिसीधारकों को बड़ी राहत दी है। कंपनी ने कहा कि है कि अब पॉलिसीधारक अपने प्रीमियम का भुगतान 15 अप्रैल 2020 तक कर सकते हैं। एलआईसी की ओर से कोरोना वायरस के बढते प्रकोप के कारण यह फैसला लिया है। आपको बता देश करीब 80 शहरों में लॉकडाउन की स्थिति है। जिसकी वजह प्रीमियम भुगतान करने में असमर्थ हैं।

यह भी पढ़ेंः- लग सकता है दिन का दूसरा लोअर सर्किट, शेयर बाजार में करीब 12 फीसदी की गिरावट, निफ्टी 980 अंक गिरा

एलआईसी की ओर से ट्वीट कर दी जानकारी
एलआईसी की ओर से इस मामले में ट्वीट किया है। वहीं ऑफिशियल प्रेस रिलीज भी जारी किया है। एलआईसी ने ट्वीट में कहा है कि 'सभी पालिसीधारकों से निवेदन है कि कृपया घर के अंदर ही रहें और प्रीमियम भुगतान के लिए ऑफिस न आएं। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए, एलआईसी की चालू पॉलिसीयों के प्रीमियम के भुगतान की तारीख 15 अप्रैल 2020 तक बढा दी गई है। घर के भीतर रहें, स्वस्थ रहें।Ó वहीं एसबीआई ने भी देश के सभी कस्टमर्स को बैंकों में ना आने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि कैश का इस्तेमाल कम करें जरूरी ना तो बैंक ना आएं। डिजिटल और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पर जोर दें।

देश के 80 जिलों में लॉकडाउन
देश के 80 जिलों में लॉकडाउन कर दिया गया है। जिसकी वजह से एलआईसी की ओर से यह फैसला लिया गया है। वहीं दूसरी ओर देश के प्रधानमंत्री भी लोगों से अपील कर रहे हैं कि लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। कोई घर से बाहर ना निकले। वहीं देश के करीब 80 जिलों में लॉक डाउन का ऐलान कर दिया गया है। लॉक डाउन घोषित करने वाले राज्यों में तेलंगाना, दिल्ली, यूपी, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, नगालैंड, महाराष्ट्र आदि शामिल हैं। देश में कोरोना वायारस के 400 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। महारारष्ट्र राज्य में सबसे ज्यादा कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं।

कोरोना वायरस कोरोना वायरस का असर
Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned