script20 more accused acquitted in case related to muzaffarnagar riots | मुजफ्फरनगर दंगा: सबूतों के अभाव में 20 आरोपी और बरी, अब तक 99 केस में 1198 आरोपमुक्त | Patrika News

मुजफ्फरनगर दंगा: सबूतों के अभाव में 20 आरोपी और बरी, अब तक 99 केस में 1198 आरोपमुक्त

Muzaffarnagar Riots : 2013 में मुजफ्फरनगर सांप्रदायिक दंगों से जुड़े एक केस में अदालत ने 20 और आरोपियों को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कमलापति ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ अभियोजन पक्ष उचित साक्ष्य पेश करने में असफल रहा है। इसलिए सभी को आरोपमुक्त किया जाता है।

मुजफ्फरनगर

Published: October 21, 2021 02:00:14 pm

मुजफ्फरनगर. Muzaffarnagar Riots : 2013 में मुजफ्फरनगर सांप्रदायिक दंगों से जुड़े एक केस में अदालत ने 20 और आरोपियों को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कमलापति ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ अभियोजन पक्ष उचित साक्ष्य पेश करने में असफल रहा है। इसलिए आरोपियों को आरोपमुक्त करते हुए बरी किया जाता है।
court_logo-m.jpg
दरअसल, 20 आरोपियों के खिलाफ 8 सितंबर 2013 को फुगाना थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी। इन सभी पर पड़ोसी अब्दुल हसन के घर घुसकर गला काटने के बाद हसन की गोली मारकर हत्या करनेे का आरोप था। मृतक के भाई की तहरीर पर ये केस दर्ज किया गया था। शिकायतकर्ता ने आरोपियों पर 6 लाख रुपये के सोने के जेवर लूटने का भी आरोप लगाया था। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कमलापति की अदालत ने साक्ष्यों के अभाव में दुष्यंत, कपिल, अजय, विकास रविंदर, अमित, राहुल, राजीव, जयपाल, सचिन, अनुज, सुधीर, बारू, मोहित और कुलदीप समेत पांच अन्य आरोपियों को आरोपमुक्त कर दिया। बताया जा रहा है कि सभी आरोपी लांक गांव के रहने वाले हैं।
यह भी पढ़ें- प्रियंका गांधी के आगरा जाने पर योगी के मंत्री का तंज, बोले- कांग्रेस शासित राज्यों में अपराध पर गूंगी-बहरी हो जाती हैं

बता दें कि मुजफ्फरनगर दंगों के मामलों में अदालत अब तक 99 केस में फैसला सुना चुकी है। जिनमें सबूतों के अभाव में 1,198 आरोपियों को बरी किया जा चुका है। जबकि 27 अगस्त 2013 को दो लोगों सचिन और गौरव की हत्या के मामले में सात आरोपियों को फरवरी 2019 में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है। ऐसा माना जाता है कि इसी घटना के बाद मुजफ्फरनगर में दंगे हुए थे और 60 लोग मारे गए थे। जबकि हजारों लोग विस्थापित हुए थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावCorona Cases In India: देश में 24 घंटे में कोरोना के 2.68 लाख से ज्यादा केस आए सामने, जानिए क्या है मौत का आंकड़ाJob Reservation: हरियाणा के युवाओं को निजी क्षेत्र की नौकरियों में 75 फीसदी आरक्षण आज से लागूअलवर दुष्कर्म मामलाः प्रियंका गांधी ने की पीड़िता के पिता से बात, हर संभव मदद का भरोसाArmy Day 2022: क्‍यों मनाया जाता है सेना दिवस, जानिए महत्व और इतिहास से जुड़े रोचक तथ्यभीम आर्मी प्रमुख चन्द्र शेखर ने अखिलेश यादव पर बोला हमला, मुलाकात के बाद आजाद निराशछत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ रहे कोरोना से मौत के आंकड़े, 24 घंटे में 5 मरीजों की मौत, 6153 नए संक्रमित मिले, सबसे ज्यादा पॉजिटिविटी रेट दुर्ग मेंयूपी विधानसभा चुनाव 2022 पहले चरण का नामांकन शुरू कैराना से खुला खाता, भाजपा के लिए सीटें बचाना है चुनौती
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.