सेना के जवान को नम आंखों से दी गई अंतिम विदाई, मंत्री समेत डीएम और एसएसपी भी पहुंचे

जम्मू कश्मीर में शहीद हुए Muzaffarnagar के जवान को राजकीय सम्मान के साथ दी गई विदाई।

muzaffarnagara-1.jpg

मुजफ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) भोरा कलां क्षेत्र के गांव गढ़ी नोआबाद में उस समय हजारों लोगों की आंखें नम हो गई जब गांव निवासी सेना ( Indian army ) के जवान मोहित बालियान का पार्थिव शरीर गांव में पहुंचा। शहीद के पार्थिव शरीर का राजकीय सम्मान के साथ नम आंखों से अंतिम संस्कार किया गया।

यह भी पढ़ें: परिवहन मंत्री के बिगड़े बाेल, भरी पंचायत में मंत्रियों के पद काे लेकर कर दी टिप्पणी, देखें वीडियो

इस दौरान केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री कपिल देव अग्रवाल पूर्व विधायक राजपाल बालियान, पूर्व मंत्री योगराज सिंह सहित क्षेत्र के दर्जनों नेताओं के अलावा जिलाधिकारी व एसएसपी समेत पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि जवान मोहित बालियान की गोली लगने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई है। कुछ लोग इसे क्रॉस फायरिंग के दाैरान गाेली लगना बता रहे हैं। सेना के अधिकारी इस पूरे मामले में जांच की बात कह रहे हैं।

यह भी पढ़ें: कार से शराब तस्करी करने वाला शराब तस्कर गिरफ्तार, 10 पेटी शराब बरामद

मुजफ्फरनगर के गांव गढ़ी नोआबाद निवासी मोहित बालियान का वर्ष 2015 में मुजफ्फरनगर के चौधरी चरण सिंह स्टेडियम में हुई सेना की भर्ती में चयन हुआ था। वर्तमान में मोहित बालियान की तैनाती जम्मू कश्मीर में आरआर 39 बटालियन में थी। बताया जा रहा है कि जांबाज जवान मोहित बालियान की बॉर्डर पर तैनाती के दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें: आजम खान के करीबी व पूर्व चेयरमैन पर शिकंजा, कोर्ट नहीं पहुंचने पर पुलिस ने कुर्की

सेना कैंप की ओर से जवान मोहित के परिजनों को मामले की जानकारी दी गई थी जिसके बाद मोहित के परिजन मोहित के पार्थिव शरीर को लेने कश्मीर पहुंच गए थे । रविवार सुबह जवान मोहित बालियान का पार्थिव शरीर मुजफ्फरनगर के थाना फुगाना में लाया गया। यहां गांव गढ़ी नौआबाद में लाकर नम आंखों के साथ राजकीय सम्मान से उनका अंतिम संस्कार किया गया।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned