नोटबंदी से परेशान व्यापारियों ने उठाया ये बड़ा कदम

नोटबंदी से परेशान व्यापारियों ने उठाया ये बड़ा कदम
the graph of crime is decrees after notes ban, note ban effects, crime after demonetization, patrika hindi news, mp news in hindi, tikamgarh

sandeep tomar | Publish: Dec, 12 2016 08:51:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

नोटबंदी के बाद से परेशान व्यापारियों ने मीटिंग करके ये फैसला लिया

सहारनपर। नाेटबंदी के बाद जहां पूरे देश में तरह-तरह की चर्चाएं की जा रही हैं आैर व्यापारी वर्ग व्यापार चाैपट हाेने का राेना राे रहा है वहीं सहारनपुर के व्यापारियाें ने एक अनाेखा संकल्प लेकर नजीर पेश की है।

लिया संकल्प

साेमवार काे अंबाला राेड स्थित एक हाेटल में पंजाबी सभा के बैनर तले इकट्ठा हुए व्यापारियाें ने नाेटबंदी के फैसले का विराेध करने में एनर्जी वेस्ट ना करते हुए व्यापारियाें से आह्वान किया कि, एेसा रास्ता निकाले जिससे उनके व्यापार पर नाेटबंदी का कम से कम असर पड़े। इसी विषय पर एक बैठक बुलाई गई आैर चर्चा की गई कि नाेटबंदी के इस दाैरा में किस तरह व्यापार काे प्रभावित हाेने से बचाया जाए। इस दाैरान यह निर्णय किया गया कि सभी व्यापारी डिजिटल भुगतान आैर ई-पेमेंट काे बढ़ावा देंगे। इसके लिए बैठक के तुरंत बाद सभी व्यापारियाें ने डिजिटल भुगतान काे बढ़ावा देने का संकल्प लिया।

खास बात यह है कि, इस बैठक में शामिल रहे अधिकांश व्यापारियाें ने अभी तक डिजिटल भुगतान काे नहीं अपनाया था लेकिन इस बैठक में हुए निर्णय के बाद इन्हाेंने कहा कि, वह अपने प्रतिष्ठानाें पर आज से ही डिजिटल भुगतान शुरु करेंगे आैर दूसरे व्यापारियाें काे भी इसके लिए प्रेरित करेंगे।

ये भी करेंगे व्यापारी

इस बैठक में यह भी निर्णय किया गया कि हर व्यापारी अपने संपर्क में आने वाले व्यापारियाें काे ईपेमेंट या डिजिटल लेनदेन के लिए जागरूक करेंगे आैर ग्राहकाें काे भी इसके लिए जागरूक करेंगे कि, वह जाे भी सामान खरीदें उसका भुगतान ईपेमेंट से ही करें। दरअसल इसका एक बड़ा फायदा यह भी है कि, व्यापारी अपनी बिक्री आैर टर्न अॉवर काे छिपा नहीं सकेंगे आैर ग्राहक के पास बिल के रूप में ट्रांजक्शन की रसीद भी हाेगी।

ये रहे माैजूद


इस बैठक में संगठन के प्रभारी राजकुमार नरूला, महामंत्री मदन लांबा, काेषाध्यक्ष मुकेश मनचंदा समेत राकेश नरूला, नीरज कामरा, मुकेश गक्खड़, रॉमी आहुजा, आशू गंधी, सुरेंद्र नागपाल, सुरेंद्र गाबा आदि माैजूद रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned