गन्ना किसानों के लिए राहत भरी खबर, शुगर मिलों ने एक हफ्ते में नहीं किया भुगतान तो होगी कड़ी कार्रवाई

Highlights:

-कई मिल अधिकारियों ने दो दिन में भुगतान करने की बात कही

-जनपद की शुगर मिलों पर किसानों का सैकड़ों करोड़ बकाया है

By: Rahul Chauhan

Published: 19 Jan 2021, 01:46 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर। किसानों के गन्ने का बकाया भुकतान समय पर कराने के लिए जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने जनपद की शुगर मिलो के अधिकारियों के साथ बैठक की। जिसमें शुगर मिलों पर किसानों के बकाया भुगतान को लेकर जिलाधिकारी ने शुगर मिलों के अधिकरियो को कड़े दिशा निर्देश दिए और चेतावनी देते हुए कहा कि इसी हफ्ते के अंदर जितना भी किसानों का बकाया गन्ना भुगतान उसे तुरंत करें और उसकी रिपोर्ट सौंपें। अगर किसी ने भी बकाया गन्ना भुगतान करने में देरी की तो उसके खिलाफ कड़ी व कठोर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: पत्नी ने शराब पीने से किया मना तो नशेड़ी पति ने बेलन मारकर फोड़ दिया सिर

उन्होंने कहा कि सभी लिखित में ही चाहिए कि कब तक गन्ना मिलें किसानों का बकाया गन्ना भुगतान करेंगी। वहीं जिलाधिकारी के कड़े तेवर देखकर गन्ना मिलों के मैनेजरों की सिट्टी पिट्टी गुम हो गई। कई गन्ना मिलों के अधिकरियो ने 2 दिन के अंदर भुगतान करने की बात स्वीकार की है। वहीं जिला गन्ना अधिकारी आरडी द्विवेदी ने कड़े शब्दों में गन्ना मिलों को अधिकरियो को चेतावनी दी कि उन्हें लिखित में चाहिए कि कब तक भुगतान होगा और कितना गन्ना मिलों पर बकाया भुगतान है।

यह भी देखें: बाराबंकी में युवती से दरिंदगी पर शुरू हुई राजनीति

वहीं गन्ना मिलों के मैनेजरो ने अपने अपने गन्ना मिलों के भुगतान का विवरण जिला अधिकारी व जिला गन्ना अधिकारी को बताया। गौरतलब है कि चालू वर्ष 2020-21 की समीक्षा में पाया गया कि चीनी मिल खतौली पर 79.93 करोड रू, चीनी मिल तितावी पर 114.32 करोड़ रु, चीनी मिल भैसाना पर 162.32 करोड़ रु, चीनी मिल मन्सूरपुर पर 73.21 करोड़ रू, चीनी मिल टिकौला पर 66.94 करोड़ रू, चीनी मिल खाईखेडी पर 32.12 करोड़ रू, चीनी मिल रोहाना पर 19.04 करोड़ रू एवं चीनी मिल मोरना पर 42.81 करोड़ रू शेष हैं।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned