रेलवे फाटक को बंद करने पर भड़के किसान, प्रदर्शन कर दी यह बड़ी चेतावनी, देखें वीडियो

  • किसान और रेलवे विभाग के कर्मचारी मंसूरपुर रेलवे फाटक को लेकर आए आमने-सामने
  • पेराई सत्र तक रेलवे फाटक को बंद करने का किसान कर रहे हैं विरोध

 

मुज़फ्फरनगर. किसान और रेलवे विभाग के कर्मचारी मंसूरपुर रेलवे फाटक को लेकर मंगलवार को एक बार फिर से आमने-सामने आ गए। किसानों ने रेलवे फाटक को बंद कर रहे रेलवे कर्मचारियों और राजमिस्त्री को मौके से खंदेड़ दिया। दीवार लगाए जाने का विरोध कर रहे किसानों ने धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। किसानों ने शुगर मिल का पेराई सत्र बंद न होने तक दीवार लगाने का विरोध करते आ रहे हैं। मौके पर पहुंचे किसानों ने रेलवे फाटक के पास धरना देना शुरू कर दिया। इस दौरान शताब्दी एक्सप्रेस-वे समेत आधा दर्जन से अधिक ट्रेनें प्रभावित हुई है।

यह भी पढ़ें: BIG NEWS: महागठबंधन में तय हुआ प्रधानमंत्री का चेहरा!, मायावती ने किया ऐलान

मंसूरपुर रेलवे स्टेशन के विस्तार करने की वजह से मिल रोड पर फ्लाईओवर बनाया गया था। रेलवे की तरफ से फ्लाईओवर के बाद में विभागीय अधिकरियों ने मिल रोड का फाटक स्थाई रूप से बंद करने का सूचना बोर्ड लगाया था। जिसके खिलाफ किसानों ने कई बार धरना दिया था। किसान मांग कर रहे हैं कि अगर यह फाटक बंद कर दिया गया तो मिल में गन्नों से भरी बोगियां फ्लाईओवर के रास्ते से नहीं जा सकती। इसलिए फाटक मार्ग से ही मिल में गन्ना डाला जाएगा। मिल बंद हो जाने के बाद यह फाटक अस्थाई रूप से बंद कर दिया जाए। किसानों की मांग को अधिकारियों ने मान भी लिया था। लेकिन मंगलवार को शाम अचानक रेलवे द्वारा राज मिस्त्री को बुलवाकर स्थाई रूप से फाटक बंद किया जाने लगा। सूचना पर जिला पंचायत सदस्य तथा रालोद नेता संजय राठी, रालोद नेता विकास बालियान के नेतृत्व में सैकड़ों की संख्या में किसान मौके पर पहुंचे और रेलवे कर्मचारियों तथा राज मिस्त्रीओं को मौके से भगा दिया।

रेलवे ट्रैक पर धरना देकर बैठ गए। उन्होंने मांग रखी की जब तक मिल का पेराई सत्र चलेगा, तब तक गन्नों की बोगियां इसी मार्ग से जाएंगी। यह फाटक बंद नहीं होने दिया जाएगा। किसानों के रेलवे ट्रैक पर बैठने की सूचना पर थाना पुलिस, जीआरपी व सीआरपीएफ मौके पर पहुंची और किसानों को समझाने का प्रयास किया। किसान अपनी मांग पर अड़े रहे। करीब 4 घंटे तक मौके पर पहुंचे किसानों प्रदर्शन किया। बताया गया है कि किसानों ने मंगलवार शाम 6 से 10 बजे तक प्रदर्शन किया था। रेलवे के अधिकारियों ने किसानों को फाटक न बंद करने का आश्वासन दिया है। उसके बाद किसानों ने प्रदर्शन समाप्त किया।

यह भी पढ़ें: इन सरकारी स्कूलों में बढ़ गई फीस, विरोध करने पर चार छात्रों के काट दिए नाम

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned