किसान नेता महेंद्र सिंह टिकैत की पुण्यतिथि पर अन्नदाताओं ने बक्सों में भर-भरकर पीएम केयर फंड के लिए भेजे पैसे

  • प्रधानमंत्री रिलीफ फंड में 2 लाख का चेक और 73 किलो सिक्के किए भेंट

By: Iftekhar

Published: 16 May 2020, 11:42 AM IST

 

मुजफ्फरनगर. सरकारों की गलत नीतियों के खिलाफ एकजुट होकर देश के किसानों की आवाज बुलंद कर किसानों को अपना हक मांगने की लड़ाई लड़ने की राह दिखाने वाले किसानों के मसीहा के साथ-साथ महात्मा कहे जाने वाले चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की 9वीं पुण्यतिथि मनाई गई। कोविड 19 वैश्विक महामारी के चलते देश में किए गए लॉकडाउन की वजह से भारतीय किसान यूनियन की राजधानी और चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की जन्म स्थली कस्बा सिसौली में पूजन के साथ उनकी पुण्यतिथि को सादगी के साथ मनाया गया। इसके साथ ही भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता व चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत के बेटे चौधरी राकेश टिकैत ने कोविड 19 वैश्विक महामारी को लेकर किसानों व मजदूरों की मदद के लिए प्रधानमंत्री रिलीफ फंड में 2 लाख रुपए का चेक और बच्चों द्वारा इकट्ठे किए गए 73 किलो सिक्के जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे को सौपे।

यह भी पढ़ें: प्रवासी मजदूरों को खाना खिलाने पर यूपी पुलिस ने पूर्व विधायक व बसपा नेता को भेजा नोटिस

इसके साथ ही भारी मात्रा में सैनिटाइजर भी दिया गया। इस दौरान चौधरी राकेश टिकैत ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री रिलीफ फंड में 2 लाख रुपए का चेक और 73 किलो सिक्के जिलाधिकारी को सौंपे हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश भर में आज किसान यूनियन कार्यकर्ताओं द्वारा इसी तरह के प्रोग्राम किए जा रहे हैं। कहीं गरीबों को खाना खिलाया जा रहा है तो कही फंट जुटाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश का मजदूर देश का निर्माण करता है और किसान अन्नदाता है। सरकार को इनकी अनदेखी नहीं करनी चाहिए, जो मजदूर पैदल अपने घरों को जा रहे हैं। उन मजदूरों की मदद करनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री की घोषणा को लेकर कहा कि सरकार को किसानों का बिजली का बिल माफ कर देना चाहिए और एक साल का ब्याज भी माफ करना चाहिए। इसके साथ ही फल सब्जी व दूध के किसान को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन्हें भी पैकेज देना चाहिए।

Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned