इस महिला के नाम से कांपते हैं वेस्‍ट यूपी के लोग, जेल से बाहर आने पर चप्‍पे-चप्‍पे पर तैनात की गई पुलिस

इस महिला के नाम से कांपते हैं वेस्‍ट यूपी के लोग, जेल से बाहर आने पर चप्‍पे-चप्‍पे पर तैनात की गई पुलिस

sharad asthana | Publish: Oct, 11 2019 10:56:41 AM (IST) | Updated: Oct, 11 2019 01:09:02 PM (IST) Muzaffarnagar, Muzaffernagar, Uttar Pradesh, India

Highlights

  • 12 साल से कोर्ट में पेश नहीं हो रही थी कोर्ट में
  • गैंग वेस्‍ट यूपी और हरियाणा में है सक्रिय
  • कुख्‍यात अपराधी विक्‍की त्‍यागी की हत्‍या के बाद संभाली थी कमान

मुजफ्फरनगर। जनपद में गुरुवार को माफिया सरगना मीनू त्‍यागी (Meenu Tyagi) की कोर्ट में पेशी की गई। इस दौरान कचहरी में चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस तैनात रही। कुख्‍यात अपराधी विक्‍की त्‍यागी की पत्‍नी मीनू त्‍यागी समेत पांच लोगों पर गुरुवार को अदालत ने आरोप तय कर दिए हैं। मीनू त्‍यागी पिछले 12 साल से बीमारी का बहाना बनाकर कोर्ट में पेश नहीं हो रही थी। इस वजह से गैंगस्टर (Gangester) अधिनियम में आरोप तय नहीं हो पा रहे थे।

जेल में काट रही है उम्रकैद की सजा

आपको बता दें क‍ि विक्‍की त्‍यागी का किसी समय वेस्‍ट यूपी (West Uttar Pradesh) में खौफ था। उसकी हत्‍या कर दी गई थी। इसके बाद गैंग की कमान मीनू त्‍यागी ने संभाल ली थी। पिछले माह उसके गैंग को एसएसपी अभिषेक यादव ने सूचीबद्ध कर दिया था। मीनू त्‍यागी मुजफ्फरनगर जेल में उम्रकैद की सजा काट रही है। इसके बावजूद उसका गैंग वेस्‍ट यूपी और हरियाणा में सक्रिय है।

यह भी पढ़ें: Bulandshahr: Vaishno Devi से लौटकर आए 7 महिलाओं व बच्‍चाें को बस ने रौंदा- देखें वीडियो

2007 में हुआ था मर्डर

दरअसल, वर्ष 2007 में रोहाना क्षेत्र में सतीश त्यागी की हत्‍या हुई थी। इसमें मीनू त्यागी, सुशील शुक्ला, बबलू, बिट्टू शुक्ला और सर्वेन्द्र आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं। इसी मामले में इन पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई थी। पिछले 12 साल से सभी आरोपी एक साथ कोर्ट में पेश नहीं हो रहे थे। इस वजह से कोर्ट इन पर गैंगस्‍टर अधिनियम में आरोप तय नहीं कर पा रहा था। एसएसपी अभिषेक यादव का कहना है क‍ि इनको कड़ी सुरक्षा में गैंगस्टर कोर्ट में पेश कराया गया है। इनमें से सुशील शुक्‍ला को देवरिया जेल से यहां पर लाया गया है। अब कोर्ट ने 22 अक्टूबर को गवाही कराने के निर्देश जारी किए हैं। आरोपियों पर आरोप तय हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: रात में चिकन बनाकर खाया, सुबह दस लोगों की हालत बिगड़ी

छह लोगों को लिया हिरासत में

वहीं, पेशी के दौरान मीनू त्‍यागी से मिलने के लिए छह लोग पहुंच गए। इस पर पुलिस ने उनको हिरासत में ले लिया। सिविल लाइन थाना प्रभारी समयपाल अत्री का कहना है क‍ि सभी छह आरोपियों का शांतिभंग की आशंका में चालान कर दिया गया है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned