मुजफ्फरनगर में भाजपा काे झटका ताे मजबूत हुई सपा, कई ने मिलाया सपा से हाथ

  • 2022 में हाेने वाले विधान सभा चुनाव के लिए उठा-पठक शुरू
  • मुजफ्फरनगर में भजपा काे झटका ताे मजबूत हुई समाजवादी

मुज़फ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव भले ही 2022 में होने प्रस्तावित हों मगर राजनीतिक दलों ने चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। कोरोना काल में भाजपा नेता तमाम बंदिशों के बावजूद भी लोगों को खाद्य सामग्री सहित अन्य सुविधाएं देने के लिए लगातार लोगों के बीच बने रहे वहीं समाजवादी पार्टी ने सरकार को कई स्थानों पर घेरने का प्रयास किया, चाहे वह अपराध हो या फिर केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि अध्यादेश। अब राजनीतिक दलों में दूसरे संगठनों से कार्यकर्ताओं को अपनी पार्टी में शामिल करने को लेकर जोर आजमाइश शुरू हो गई है।

यह भी पढ़ें: दुल्हन बनकर आई थी भारत, अब मिली नागरिकता जब बन गई दादी

इसी को लेकर रविवार को भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) के कई पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं सहित अन्य कई संगठनों के कई दर्जन कार्यकर्ताओं ने समाजवादी पार्टी का दामन थामा है। इसी को लेकर महावीर चौक स्थित समाजवादी पार्टी कार्यालय पर एक सभा का आयोजन करते हुए मुजफ्फरनगर विधानसभा सीट से पूर्व प्रत्याशी रहे व पूर्व जिला अध्यक्ष गौरव स्वरूप और उत्तर प्रदेश सरकार की पूर्व राज्यमंत्री उमा किरण की मौजूदगी में इन सभी कार्यकर्ताओं को समाजवादी पार्टी में शामिल करते हुए फूल मालाओं से लादकर इनका स्वागत किया गया।

यह भी पढ़ें: खाद्य एवं रसद मंत्री के जनपद में कोटेदार व पूर्ति विभाग की मिलीभगत से छिन रहा गरीबों का हक

इस दौरान सपा नेता गौरव स्वरूप ने दूसरे दलों को छोड़कर सपा में शामिल हुए इन कार्यकर्ताओं का स्वागत करते हुए उन्हें भरोसा दिलाया कि भविष्य में समाजवादी पार्टी इन कार्यकर्ताओं का सम्मान रखेगी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशानुसार पार्टी काम करती रहेगी वहीं दूसरे दलों को छोड़कर आए कार्यकर्ताओं ने 2022 के विधानसभा चुनाव में अखिलेश यादव को दिलो जान से चुनाव लड़ा कर मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प लिया है

BJP
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned