UP Police में महिला सिपाहियों को फिट रखने के लिए जारी हुआ फरमान, सभी को करना होगा ये काम

Highlights:

-एसएसपी ने पुरकाजी थाना प्रभारी हरशरण शर्मा से सभी महिला सिपाहियों को जिम भेजने के निर्देश दिए

-इसके अलावा उन्होंने महिला खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता दिलाने का वादा किया

-प्रभारी निरीक्षक ने कहा कि एसएसपी के निर्देशानुसार थाने में तैनात महिला सिपाहियों को जिम भेजा जाएगा

By: Rahul Chauhan

Updated: 03 Dec 2019, 04:22 PM IST

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश पुलिस किसी न किसी बात को लेकर चर्चा में बनी रहती है। कभी अपने अच्छे कार्यों के लिए तो कभी कारनामों के लिए। लेकिन, अब चर्चा महिला सिपाहियों को लेकर जारी हुए फरमान की हो रही है। जिसमें महिला सिपाहियों को फिट रहने के लिए जिम जाने का फरमान सुनाया गया है। इतना ही नहीं, जो महिला सिपाही ऐसा नहीं करेगी उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है।

यह भी पढ़ें : संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हुई युवती तो एसपी के पास पहुंचे परिजन, लगाई ऐसी गुहार

दरअसल, मुजफ्फरनगर जिले के एसएसपी सोमवार को पुरकाजी कस्बे में आइपीबीपीएएस (इंटरनेट प्रोटोकॉल बेस्ड पब्लिक एड्रेस सिस्टम) का शुभारंभ करने पहुंचे थे। यहां उन्होंने पुरकाजी थाने में तैनात सभी महिला सिपाहियों को नगर पंचायत के महिला जिम में जाने का फरमान सुनाया। इस दौरान एसएसपी अभिषेक यादव ने भीड़-भाड़ वाले खादर तिराहे पर जाकर आइपीबीपीएएस की आवाज सुनी और फिर नगर पंचायत के विदेशी मशीनों से लैस महिला जिम का भी निरीक्षण किया। जहां उन्होंने जिम के चेयरमैन से मशीनों व शुल्क आदि की जानकारी ली।

यह भी पढ़ें : शिक्षक बोले- सरकार कुछ नहीं कर सकती तो हम सिखाएंगे बलात्कारियों को सबक, देखें वीडियो-

इसके बाद एसएसपी ने पुरकाजी थाना प्रभारी हरशरण शर्मा से थाने में तैनात सभी महिला सिपाहियों को जिम भेजने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने कस्बे व देहात क्षेत्र में महिला खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता दिलाने का भी वादा किया। इस बाबत प्रभारी निरीक्षक ने कहा कि एसएसपी के निर्देशानुसार थाने में तैनात महिला सिपाहियों को जिम भेजा जाएगा।

वहीं एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि पुलिस के लिए फिटनेस जरूरी है। इसलिए पुलिसकर्मियों को फिजिकल फिटनेस के लिए प्रेरित करने का निर्णय लिया गया है। पुरकाजी में महिलाओं के लिए महिला जिम की सुविधा है तो महिला आरक्षियों को वहां जाना चाहिए। वहीं अन्य पुलिसकर्मियों के लिए पुलिस लाइन में ही व्यवस्था कराई जाएगी।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned