Panchayat Chunav से पहले हो रहा था शराब का बड़ा खेल, पुलिस ने कर दिया भंडाफोड़

Highlights:

-आरोपियों के पास से शराब बनाने के उपकरण व भारी मात्रा में शराब बरामद

-कई आरोपियों पर पहले से कई केस दर्ज हैं

-पुलिस प्रत्याशियों की जांच में भी जुटी

By: Rahul Chauhan

Published: 09 Jan 2021, 01:17 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव की सुगबुगाहट तेज होते ही शराब माफिया भी सक्रिय हो गए हैं। पश्चिम उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव में मतदाताओं को लुभाने के लिए ज्यादातर प्रत्याशी मदिरा का इस्तेमाल करते हैं। वहीं जनपद मुजफ्फरनगर की अगर बात करें तो यहां वर्षों से चली आ रही इस परंपरा को कायम रखने के लिए कई प्रत्याशी अवैध शराब का भी भरपूर इस्तेमाल करते हैं। इसी को लेकर मुजफ्फरनगर पुलिस द्वारा शराब माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। इस क्रम में थाना मंसूरपुर पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम ने अवैध शराब की तस्करी करने वाले एक अंतर राज्य स्तर के शराब तस्कर गिरोह का भंडाफोड़ किया है। जिसमें पुलिस ने 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: भैंस की तेरहवीं में जुटा पूरा गांव, ढ़ोल-नगाड़ों से हुई अंतिम विदाई, हलवाई लगाकर दी गई दावत

पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से भारी मात्रा में अवैध शराब शराब बनाने के उपकरण, बोतल रैपर, होलोग्राम व बारकोड के साथ-साथ बोतल सील करने की मशीन बरामद की है। एसएसपी अभिषेक यादव ने पुलिस लाइन स्थित सभागार में प्रेस वार्ता करते हुए पूरे मामले का पर्दाफाश किया। जिसमें एसएससी अभिषेक यादव ने बताया कि पकड़े गए आरोपी काफी समय से अवैध शराब का धंधा करते चले आ रहे हैं। जिसमें पुलिस ने पहले भी इनमें से कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जिसके बाद जेल से छूट कर आने के बाद आरोपियों ने फिर अवैध शराब का धंधा शुरू कर दिया था। पंचायत चुनाव में किसी तरह की कोई जनहानि ना हो, इसके लिए उन्होंने पुलिस को इस काम में लगा रखा है ताकि जनपद में कोई प्रत्याशी इस तरह की नकली व अवैध शराब का इस्तेमाल कर किसी व्यक्ति के जीवन से खिलवाड़ न कर सके।

यह भी देखें: फर्रुखाबाद में सट्टा कारोबार जोरों पर

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए 13 आरोपियों में से 6 आरोपी ऐसे हैं जिनपर अवैध शराब के पहले से भी कई मामले दर्ज हैं। पुलिस इस बात की भी छानबीन कर रही है कि आगामी पंचायत चुनाव में चुनाव लड़ने के इच्छुक लोग इनके संपर्क में तो नहीं है। ऐसा है तो अगर किसी प्रत्याशी के पास इस तरह की नकली में अवैध शराब पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से 24 लीटर अल्कोहल, 5500 खाली पव्वे, 8200 रैपर, 20,000 ढक्कन, देसी व अंग्रेजी शराब के, 4500 बारकोड, पवे सील करने की एक मशीन, दो पंप, 500 खाली पेटी और 3 कार, 3 पेटी तैयार शराब सहित भारी मात्रा में शराब बनाने के उपकरण बरामद किए हैं।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned