युवक ने पत्नी के आशिक और दोस्त के खिलाफ दर्ज कराया 'लव जिहाद’ का केस, जानिये पूरा मामला

Highlights:

-मामला मुजफ्फरनगर के थाना मंसूरपुर क्षेत्र का है

-पुलिस ने दो आरोपियों को खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया

-पुलिस मामले में कुछ भी स्पष्ट बोलने से बच रही है

By: Rahul Chauhan

Published: 02 Dec 2020, 12:30 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर। योगी सरकार द्वारा कानून लाए जाने के बावजूद लव जिहाद के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। हालांकि इस क्रम में कार्रवाई करते हुए प्रदेश के कई जनपदों में पुलिस ने केस भी दर्ज किए हैं। ऐसा ही एक मामला मुजफ्फरनगर में दर्ज हुआ है। हालांकि इसमें शिकायत महिला ने नहीं बल्कि एक युवक ने अपनी पत्नी और उसके आशिक के खिलाफ की है। जिसपर संज्ञान लेते हुए पुलिस ने दो आरोपियों के खिलाफ 'लव जिहाद' का मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि ये मामला अलग-अलग संप्रदाय से जुड़ा हुआ है। वहीं पुलिस की मानें तो मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें: बच्ची के शव के साथ भी दरिंदे ने किया दुष्कर्म, आरोपी का होगा साइको टेस्ट

जानकारी के अनुसार तीन वर्ष पूर्व मुजफ्फरनगर के मंसूरपुर थाना क्षेत्र के गांव पूरा निवासी अक्षय की शादी हुई थी। उसकी दो संतान भी हैं और वह हरिद्वार के भगवानपुर में लेबर कांट्रेक्टर का काम करता है। तहरीर के मुताबिक वहीं पर उसके अधीन नदीम नाम का एक युवक भी काम करता है। आरोप है कि नदीम ने उसकी पत्नी को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया और नदीम का सहयोगी और उसका दोस्त सलमान भी इसमें शामिल है। आरोप है कि दोनों ने उसकी पत्नी को बहला-फुलसाकर अपने जाल में फंसा लिया और अब वह उसका धर्म परिवर्तन कराना चाहते हैं।

यह भी पढ़ें: सीरिया से लौटे PFI एजेंटों की तलाश में वेस्ट यूपी की खाक छान रही खुफिया एजेंसियां

पीड़ित ने दोनों के खिलाफ मंसूरपुरि थाने में तहरीर देकर मदद की गुहार लगाई है। पुलिस के मुताबिक पीड़ित की तहरीर के आधार पर धारा 504/ 506 /120 बी व उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2020 की धारा 3/5 के तहत दोनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया हैं। हालांकि पुलिस इस मामले में कुछ भी स्पष्ट बोलने से बचती नजर आ रही है।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned