सोशल मीडिया पर पोस्ट किया कुछ ऐसा तो जाना पड़ सकता है जेल

सोशल मीडिया पर पोस्ट किया कुछ ऐसा तो जाना पड़ सकता है जेल

Rahul Chauhan | Publish: Oct, 13 2018 03:03:51 PM (IST) Muzaffarnagar, Uttar Pradesh, India

आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी गई है।

शामली। जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता मे नवरात्रि एवं दशहरा पर्व को शान्तिपूर्वक ढंग से सम्पन्न कराने के लिए गणमान्य नागरिकों एवं क्षेत्राधिकारियों व थानाध्यक्षों के साथ बैठक सम्पन्न हुई। उन्होंने कहा कि जनपद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शामिल होने के कारण पटाखे व आतिशबाजी प्रतिबंधित रहेगी। उन्होंने समस्त एसडीएम को निर्देश दिए कि इस का औचक निरीक्षण कर जांच की जाए। जिससे कोई भी घटना घटित ना हो सके। इस दौरान उन्होंने आम नागरिक को कहा कि सोशल मीडिया पर कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट ना डालें। आपत्तिजनक पोस्ट डालने वाले के विरुद्ध कठोर कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी है।

यह भी पढ़ें : बचपन की इस बड़ी गलती की वजह से युवा नहीं जा पा रहे सेना में

जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह व पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आगामी त्योहारों को दृष्टिगत शांति समिति की बैठक संबोधित की। उन्होंने सभी को जनहित में काम करने को कहा। आने वाले त्यौहारों को शान्तिपूर्ण व भाईचारे के साथ सम्पन्न कराने को लेकर उन्होंने सभी क्षेत्राधिकारियों व थानाध्यक्षों की जिम्मेदारी दी है कि अपने कर्तव्यों का निर्वाहन करते हुए त्योहारों को सकुशल सम्पन्न कराने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें : शस्त्र लाइसेंस लेने के लिए बस करना होगा ये काम, जारी होने वाले हैं आवेदन फार्म

उन्होने कहा कि जरूरत है हम सब यानि सभी धर्मा के लोग एक दूसरे के त्योहार में सहयोग करें। सुरक्षा व्यवस्था पर पैनी निगाह रखते हुए शरारती तत्वों को सूचीबद्व कर लें और समय रहते उन पर कार्रवाई करें। जिससे किसी भी प्रकार की दिक्कते न हो सके।

यह भी पढ़ें : हजारों सालों से यहां नहीं मनाया जाता है दशहरा, राम नहीं करते यहां रावण का वध, होती रावण की पूजा

उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि विद्युत के पोलों व तारों को सही करा दिया जाये। जहां तार ढीले है उन्हे सही करायें और विद्युत आपूर्ति में किसी भी प्रकार की हीलाहवाली न करें। और एडवान्स में ट्रान्सफार्मर उपलब्ध रहने चाहियें। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाये कि नई जगह मूर्ति स्थापित नही की जायें विगत वर्षा में जहां मूर्ति स्थापित थी वही स्थापित की जायें। उन्होने आयोजको से कहा कि डीजे और प्लस्टिक की परम्परा को समाप्त किया जायें और पंडाल में अग्निशमन यंत्रों की व्यवस्था सुनिश्चित की जायें यथासम्भव कोशिश रहे कि पंडाल सड़क की तरफ न रहे। जिससे आने जाने वाले लोगे को दिक्कत न हों।

Ad Block is Banned