Video: योगी सरकार के खिलाफ फूटा गुस्सा, स्कूल के बच्चों को बाहर कर बांधे आवारा पशु, हड़कंप

खास बातें-

- थाना चरथावल क्षेत्र के गांव पीपल शाह के ग्रामीणों में आक्रोश
- बोले- हिंसक आवारा पशु लोगों को भी बना रहे अपना शिकार
- आवारा पशुओं को गांव के प्राथमिक विद्यालय में बंद किया

By: lokesh verma

Published: 05 Sep 2019, 03:23 PM IST

मुजफ्फरनगर. उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के आने के बाद गोवंशीय आवारा पशुओं की संख्या बढ़ने के कारण ग्रामीण बेहद परेशान हैं। आवारा पशुओं की संख्या इतनी ज्यादा बढ़ गर्इ है कि वे गांव से लेकर खेतों तक पहुंचकर फलस को बर्बाद कर रहे हैं। हालत इस कदर खराब हो चुके हैं कि गन्ने की फसल को छोड़कर बाकी सभी फसलों को आवारा पशु भारी नुकसान पहुंचा रहे हैं।

वहीं अब आवारा पशुआें से लोगों को भी अपनी जान का खतरा सता रहा है, क्योंकि आवारा पशु क्षेत्र के कर्इ लोगों को शारीरिक चोट पहुंचा चुके हैं। कई जगह तो आवारा पशु इतने हिंसक हुए की लोगों को पेड़ पर चढ़कर अपनी जान बचानी पड़ी है। इन्हीं परेशानियों को देखते हुए थाना चरथावल क्षेत्र के गांव पीपल शाह के ग्रामीणों ने गुरुवार को दिन निकलते ही आवारा पशुओं को गांव के प्राथमिक विद्यालय में बंद कर दिया और बाहर से ताला लगा दिया। इस दौरान शिक्षकों व विद्यार्थियों को भी स्कूल में जाने से रोक दिया गया।

यह भी पढ़ें- महिला सिविल जज बोलीं, केस निपटाने के लिए मेरे साथ की गई इतनी गंदी हरकत

ग्रामीणों का कहना है कि आवारा पशुओं ने उनके खेत उजाड़ दिए हैं। यहां तक कि उनके पालतू पशुओं के हिस्से का चारा भी चट कर गए हैं। इस वजह से ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। यही नहीं आवारा पशु गांव और खेतों में लोगों को टक्कर मारकर घायल कर रहे हैं। कई लोगों को गंभीर चोटें भी आई हैं। इसी वजह से उन्हें मजबूरी में यह कदम उठाना पड़ा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार गोवंश पशुओं को संरक्षित करने के लिए गोशालाओं की व्यवस्था करने का दावा कर रही है, लेकिन गांव में आवारा पशुआें की भरमार है।

यह भी पढ़ें- Video: कार की वर्कशाॅप में लगी भीषण आग, देखते ही देखते जलकर राख हुई सफारी

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned