Shocking: किसान परिवार ने सामूहिक रूप से की आत्महत्या, झकझोर देगी वजह

Shocking: किसान परिवार ने सामूहिक रूप से की आत्महत्या, झकझोर देगी वजह
suicide

sandeep tomar | Updated: 04 Dec 2016, 04:08:00 PM (IST) Muzaffernagar, Uttar Pradesh, India

एक किसान परिवार ने रविवार तड़के सामूहिक रूप से जहर खाकर जान दे दी

सहारनपुर। एक किसान परिवार ने रविवार तड़के सामूहिक रूप से जहर खाकर जान दे दी। यह परिवार अपनी जमीन काे गिरवी रखकर भी कर्ज नहीं चुका पा रहा था। चिलकाना क्षेत्र के गांव अहाड़ी अब्दुल्लापुर निवासी रतन सिंह सैनी एक छाेटे किसान थे। बताया जाता है कि, करीब तीन साल पहले उन्हाेंने अपनी आठ बिघा जमीन गिरवी रख दी थी। अब वह इस जमीन काे छुड़वा नहीं पा रहे थे। इन पर केसीसी, साेसाईटी आैर अन्य कर्ज थे। कर्ज में डूबे रतन सिंह अपनी जमीन काे गिरवी रखने के बाद भी जब कर्ज नहीं चुका पाए ताे अंदर से टूट गए आैर पूरे परिवार ने सामहूिक रूप से आत्महत्या कर लिया।

घर में थी बिन ब्याही बेटी

रतन सिंह की एक 25 वर्षीय बेटी थी जाे एमए की पढ़ाई कर रही थी आैर इनका एक छाेटा बेटा पत्नी संग इनके साथ ही रहता था जबकि दूसरा बड़ा बेटा गांव में ही अलग मकान में रहता था। दाेनाें बेटाें की शादी हाे चुकी थी लेकिन बेटी जमुना रानी की शादी नहीं हाे पा रहा थी। अब पिता काे कर्ज के साथ-साथ घर में जवान बेटी भी बाेझ लग रही थी। शनिवार रात जब बेटा पिंटू घर पर नहीं था ताे 55 वर्षीय रतन सिंह, इनकी करीब 50 वर्षीय पत्नी प्रकाशी आैर करीब 25 वर्षीय बेटी जमुना रानी ने सामूहिक रूप से जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया आैर साेने के लिए चले गए।

अंतिम संस्कार के बाद पहुंची पुलिस


बताया जाता है कि, इसके कुछ ही देर बाद इन्हे उल्टियां हाेने लगी ताे बेटे की पत्नी ने शाेर मचा दिया। कुछ ही देर में इनका बेटा भी आ गया आैर आनन-फानन में तीनाें के अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक काफी देर हाे चुकी थी। तड़के किसान, इनकी पत्नी आैर बेटी ने दम ताेड़ दिया। आनन-फानन में तड़के ही दानाें बेटे ने तीनाें का अंतिम संस्कार कर दिया आैर इसके बाद पुलिस पहुंची। प्रभारी एसएसपी संजय सिंह ने बताया कि घटना बेहद दुःखद है। प्रथम दृष्टया कर्ज के साथ जमीन का गिरवी हाेना आैर जवान की बेटी की शादी नहीं हाेने से परेशान इस किसान परिवार ने जहर खाकर जान दी है। बावजूद इसके जांच की जा रही है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned