अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर किया बड़ा हमला 

खतौली में बोले- व्‍यापारी नहीं देंगे भाजपा को वोट, मोदी पर भी की टिप्‍प्‍णी 

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री गुरुवार को मुजफ्फरनगर में तीन जनसभाओ को सम्बोधित करने पहुंंचे। सबसे पहले खतौली विधानसभा पहुंंचकर उन्होंने भाजपा और प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर वार किया। पलायन के मुद्दे पर सीएम अखलेश यादव ने कहा, ये लोग कहते हैंं कि पलायन को लेकर के कोई सेना बनाएंगे। जबक‍ि हम तो कहते हैंं कि पलायन करके भारतीय जनता पार्टी वाले यहां आ रहे हैंं। और अगर कोई कानून बनेगा, कोई व्यवस्था बनेगी तो पलायन से अपने प्रधानमंत्री जी को कैसे बचाओगे ये बता दो। क्‍याेेंकि वो भी पलायन करके आए हैंं। गुजरात से लखनऊ में और फिर यूपी से पलायन करके चले गए दिल्ली में। अगर कानून आप बना रहे हो तो कम से कम आपको ये देखना पड़ेगा कि लोग अपनी नौकरी की वजह से चले जाते हैंं। पता नहीं बाहर से कितने लोग आकर लखनऊ में बस गए। उन्‍होंने कहा क‍ि बीजेपी की उल्टी गिनती शुरू हो गई है। 

देखें वीडियो 


सभा को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा क‍ि व्यापारी सबसे ज्यादा दुखी हैंं। सबसे ज्यादा मेेहनत करने वाले दुखी हैंं। उन्होंने मन बनाया है कि इस बार वे भाजपा के खिलाफ मतदान करेंगे। भाजपा के खिलाफ मतदान होने जा रहा है। वे कही लड़ाई में है ही नहीं और अगर ड़ाई में हो तो बता दो। उन्‍होंने कहा क‍ि अब कांग्रेस साथ आ गई है तो सरकार हमारी बनेगी। भाजपा का यूपी से सफाया कर रहे हैंं। हम लोग आने वाले समय में इन सांंप्रदायिक ताकतों को दिल्ली से भी हटाने का काम करेंगे। 

गठबंधन पर बोले, बड़े दिल से करनी चाहिए दोस्‍ती 

कांग्रेस के साथ गठबंधन पर उनहोंने कहा, कभी-कभी लोग आरोप लगा देते हैंं। हमारी पार्टी के लोग भी नाराज हो जाते हैंं कि अापने कांंग्रेस को इतनी ज्‍यादा सीटेंं क्‍यों दे दी। हमने कहांं कि अगर दोस्ती करनी है तो बड़े दिल से करनी पड़ेगी। याद रखना अगर दोस्त कंजूस हुआ तो आपका कोई सपना पूरा नहीं हो सकता। इसलिए आने वाले समय में हम लोगोंं को अपने काम को आगे बढ़ाना है। अगर नीति में सुधार आए तो सोचो सपा की सरकार होगी और कितना सुधार आ जाएगा। इसके बाद सीएम अखिलेश यादव मुजफ्फरनगर की बुढाना विधानसभा की और निकल पड़े। वहांं के बाद सीएम ने मुजफ्फरनगर की सदर विधानसभा में भी जनता को सम्बोधित किया। 

बजट पर भी तीखी प्रतिक्रिया   

बजट के ऊपर उन्‍होंने कहा, देश को ये लग रहा था कि बजट चुनाव से पहले आ रहा है। खासकर यूपी के चुनाव से पहले, तो आम लोगोंं को लगा क‍ि बहुत कुछ मिलेगा। किसान को कुछ मिलेगा। नौजवानोंं के रोजगार के अवसर पैदा होंगे लेकिन इसने पूूरे देश को खासकर उत्तर प्रदेश को निराश किया है। जब अकाउंट में 15 लाख रुपये पहुंचाने की बात हुई थी तो हमें लगा कि शायद इस बजट में गरीबोंं को पैसा भिजवाने के लिए कुछ ना कुछ व्यवस्था होगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अरे 15 लाख ना भेजते, 15 हज़ार भेज देते। कुछ तो गरीबो को मदद मिलती। 
modi news
Show More
sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned