Teachers Day: प्राइवेट स्‍कूल छोड़कर बच्‍चों ने अखलाक के स्‍कूल में लिया दाखिला, सीएम ने दिए 25 हजार रुपये

  • शिक्षक दिवस पर UP CM Yogi Adityanath ने दिया सम्‍मान
  • प्राथमिक विद्यालय तितावी में प्रधानाध्यापक हैं अखलाक अहमद
  • 62 छात्र-छात्राओं ने कॉन्वेंट स्कूल से प्राइमरी स्कूल में लिया एडमिशन

मुजफ्फरनगर। शिक्षक दिवस ( Teachers Day ) की पूर्व संध्या पर बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( UP CM Yogi Adityanath ) ने प्रदेश के 149 अध्यापकों को राज्य अध्यापक पुरस्कार से सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने अध्यापकों को 25-25 हजार रुपये के चेक भी दिए। इनमें मुजफ्फरनगर के प्राथमिक विद्यालय तितावी के प्रधानाध्यापक मोहम्मद अखलाक अहमद भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: Teachers Day Special: इस मुस्लिम शिक्षिका के स्‍कूल में एडमिशन के लिए लगती है बच्‍चों की लंबी लाइन

202 बच्‍चे हैं स्‍कूल में

प्राथमिक विद्यालय तितावी में प्रधानाध्यापक बनकर अखलाक अहमद ने शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है। प्राथमिक विद्यालय तितावी में इस वक्त 202 बच्चे हैं, जो शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि 62 छात्र-छात्राएं कॉन्वेंट स्कूल से प्राइमरी स्कूल में दाखिल हुए हैं। शिक्षक अखलाक अहमद के प्रयास और मेहनत से तितावी के प्राथमिक विद्यालय से दो बच्‍चे नवोदय विद्यालय और शिक्षा ज्ञान स्कूल के लिए चयनित हुए हैं। ये विद्यालय उत्तर प्रदेश के टॉप टेन स्‍कूलों में शुमार किए जाते हैं। शिक्षक दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री द्वारा सम्मान मिलने के बाद अखलाक अहमद बेहद खुश हैं। उनका कहना है कि यह मेहनत और लगन का फल है। उनका मानना है कि सभी अध्यापकों को मेहनत करनी चाहिए ताकि बच्चों के भविष्य का बेहतर निर्माण किया जा सके।

यह भी पढ़ें: आपके बच्‍चे उठा रहे हैं 9 किलो वजनी बैग, जानिए क्‍या होना चाहिए उनके बैग का वजन

2013 में हुई थी ज्‍वाइनिंग

प्राथमिक विद्यालय तितावी में तैनात सहायक अध्यापिका भावना मलिक ने बताया कि उनको इस स्‍कूल में करीब 10 साल हो चुके हैं। अखलाक अहमद यहां पर हेडमास्‍टर हैं। उनकी यहां पर 2013 में ज्‍वाइनिंग हुई थी। उन्‍होंने यहां की तस्‍वीर बदल दी। बच्‍चों की हाजिरी बढ़वाने के लिए उन्‍होंने नई-नई योजनाओं का सहारा लिया। इसके लिए बच्‍चों को पुरस्‍कार भी दिए गए। उन्‍होंने बच्‍चों की सुविधाओं का पूरा ध्‍यान रखा। छुट्टी के दिन भी वह स्‍कूल में आ जाते थे।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned