Uttar Pradesh Zila Panchayat President Live Update : हंगामे के बाद विपक्ष का बहिष्कार, केंद्रीय मंत्री पर भाई ने लगाए गंभीर आरोप

Uttar Pradesh Zila Panchayat President Live Update : मुजफ्फरनगर में जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव के दौरान विपक्ष का हंगामा, विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी सत्येंद्र बालियान ने जिला प्रशासन पर लगाया सत्ता के पक्ष में काम करने का आरोप।

By: lokesh verma

Published: 03 Jul 2021, 03:36 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मुजफ्फरनगर. Uttar Pradesh Zila Panchayat President Live Update : जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए मतदान के दौरान उस समय विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने हंगामा शुरू कर दिया, जब विपक्ष के संयुक्त प्रत्याशी सत्येंद्र बालियान जिला कलेक्ट्रेट से बाहर आ गए। इस दौरान विपक्ष के प्रत्याशी सत्येंद्र बालियान ने सत्ता पक्ष के लोगों के साथ-साथ अपने भाई केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान (Union Minister Sanjeev Balyan) पर भी गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने जिला प्रशासन पर सत्ता के पक्ष में काम करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने चुनाव आयोग के नियमों को ताक पर रखकर सत्ताधारी पार्टी को एजेंट दिए। जबकि उन्हें पहले ही एजेंट देने से मना कर दिया गया था। हंगामे के बाद विपक्ष ने मुजफ्फरनगर में जिला पंचायत चुनाव का बहिष्कार (Boycott) कर दिया।

यह भी पढ़ें- यूपी जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए 53 जिलों में मतदान जारी, आज आएगा रिजल्ट, 45 जिलों में भाजपा का सपा से सीधा मुकाबला

जैसे ही विपक्ष के प्रत्याशी सत्येंद्र बालियान प्रकाश चौक पर पहुंचे तो महावीर चौक पर रोके गए रालोद व भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया। कार्यकर्ता और नेता महावीर चौक पर बैरीकेटिंग तोड़कर प्रकाश चौक पर पहुंच गए। इस चुनाव के दौरान सबसे बड़ी बात यह है कि मीडिया को भी कलेक्ट्रेट परिसर से बाहर रखा गया है। विपक्षी पार्टियों के नेताओं का आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी के जिला पंचायत अध्यक्ष पद के प्रत्याशी मतगणना स्थल में अंदर बैठे हैं और और खुद ही वोट डाल रहे हैं। इसके अलावा विपक्ष का यह भी आरोप है कि सत्ता पक्ष के नेता जिला पंचायत सदस्यों को गाड़ी से ही कलेक्ट्रेट में अंदर भेज रहे हैं जबकि विपक्ष के जिला पंचायत सदस्य को मतदान स्थल पर पैदल चलकर जाना पड़ा।

इसी हंगामे के बीच पर प्रकाश चौक पर कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद रहे। वहीं रालोद जिलाध्यक्ष अजीत राठी, भाकियू जिला अध्यक्ष धीरज लाटियान और पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक के अलावा सैकड़ों कार्यकर्ता नारेबाजी कर रहे थे। कार्यकर्ताओं ने पहले तो बैरीकेटिंग तोड़कर कलेक्ट्रेट में घुसने का प्रयास किया, लेकिन फिर अचानक रुक गए और प्रकाश चौक पर ही धरने पर बैठ गए। धीरज लाटियान ने कहा कि प्रशासन की यह धींगा मस्ती नहीं चलेगी। हंगामे प्रदर्शन के बाद विपक्षी सदस्य चुनाव के बहिष्कार की घोषणा करते हुए रालोद कार्यालय पर पहुंच गए।

यह भी पढ़ें- Jila Panchayat Adhyaksh Election 2021: कानपुर जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चाहिए 17 सदस्य, किसके सिर बंधेगा ताज

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned