शेल्टर होम रेप केस:सीबीआई जांच को लेकर विपक्ष का विधानसभा में हंगामा,लोकसभा में गृहमंत्री ने तोड़ी चुप्पी

विपक्ष के नेता ने तंज कसे कि महिलाओं की आजादी के नारों का क्या हुआ...

By: Prateek

Published: 24 Jul 2018, 04:38 PM IST

(पत्रिका ब्यूरो,पटना): मुजफ्फरपुर बालिका गृह में लड़कियों के यौन शोषण का मामला संसद के साथ विधानसभा में गूंजा। विपक्ष ने इस मुद्दे पर सरकार को चौतरफा घेरने की कवायद की ।जबकि सरकार जांच और रहस्योद्घाटन के लिए खुद अपनी ही पीठ थपथपा रही है।

 

हाईकोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच हो

विधानसभा में नेता विरोधी दल तेजस्वी यादव ने इस मामले में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पर मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से गहरे रिश्ते के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि ठाकुर का सुशील मोदी के साथ बैठना उठना है। यादव का कहना था कि इस मामले की हाईकोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच कराई जानी चाहिए। पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल की टीम ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह की 29लड़कियों के साथ यौन शोषण की पुष्टि की है।

 

महिलाओं की आजादी के नारों का क्या हुआ

विपक्ष के नेता ने तंज कसे कि महिलाओं की आजादी के नारों का क्या हुआ। राज्य में लगातार महिलाओं के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं हो रही हैं। पूरे सूबे में कानून व्यवस्था बुरी तरह चौपट हो गयी है। सरकार और प्रशासन नाम की कोई व्यवस्था नहीं रह गयी है।

 

सदन की कार्यवाही स्थगित

इससे पहले सदन की कार्यवाही दोपहर ग्यारह बजे शुरु हुई तो विपक्ष ने कार्यस्थगन प्रस्ताव पेश कर विशेष चर्चा कराने की मांग उठाई। सभाध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने इसकी अनुमति नहीं दी तो आरजेडी सदस्य अध्यक्ष के आसन के समक्ष वेल में आकर हंगामा और नारेबाजी करने लग गये।शोर शराबे के बीच सदन की कार्यवाही कुछ देर चलने के बाद सभाध्यक्ष ने कार्यवाही स्थगित कर दी।

 

सरकार ने मामले का खुलासा किया

इस बीच सरकार ने दावा किया कि उसके दखल से ही मामले का खुलासा हुआ। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि सरकार ने ही कार्रवाई की और आरोपियों को जेल के भीतर डाला। समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा और प्रधान सचिव अतुल प्रसाद ने भी इसी तरह के दावे किए हैं। अतुल प्रसाद ने कहा कि राज्य सरकार ने ही टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज से मुजफ्फरपुर समेत अन्य बालिका गृहों की जांच कराई थी।


राज्य की सिफारिश पर ही सीबीआई से जांच करवाने पर विचार

संसद में मंगलवार को एक बार फिर मुजफ्फरपुर शेल्टर होम दुष्कर्म मामले पर बात उठी। इस मामले की जांच सीबीआई से करवाने को लेकर लगातार मांग कर रहे विपक्षी सांसदों की बात का जवाब देने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने चुप्पी तोड़ी हैं। कांग्रेस सासंद रणजीत रंजन ने मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की। उनका जवाब देते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यदि राज्य सरकार की ओर से सीबीआई जांच की सिफारिश की जाए तो केंद्र सरकार इस मामले की जांच सीबीआई से करवाने पर विचार करेगी।

Prateek Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned