नागौर में बढ़ेगा डिस्कॉम का कुनबा, 6 नए एईएन व 2 एक्सईएन कार्यालय खुलेंगे

जिले के क्षेत्रफल व उपभोक्ताओं की संख्या को देखते हुए डिस्कॉम अधिकारियों ने दो साल पहले भेजा था प्रस्ताव, व्यवस्थाओं में सुधार

By: shyam choudhary

Published: 16 May 2018, 08:08 PM IST

 

नागौर. जिले में डिस्कॉम का ढांचा सुधारने तथा उपभोक्ताओं को बेहरत सुविधाएं देने के लिए राज्य सरकार के ऊर्जा विभाग ने 6 नए सहायक अभियंता कार्यालय एवं लाडनूं व डेगाना में दो नए अधिशासी अभियंता कार्यालय खोलने की स्वीकृति प्रदान की है। हालांकि स्वीकृति के हिसाब से नए वित्तीय वर्ष में सभी नए कार्यालयों में काम-काज शुरू हो जाना था, लेकिन निगम के पास अभियंताओं की कमी होने के कारण अब तक स्वीकृति को मूर्त रूप नहीं दिया जा सका है। डिस्कॉम अधिकारियों का कहना है कि निगम में अभियंताओं को पदौन्नति देने की प्रक्रिया चल रही है, जल्द ही नए स्वीकृत पदों पर नियुक्तियां दी जाएगी।

गौरतलब है कि नागौर क्षेत्रफल की दृष्टि से काफी बड़ा जिला है तथा उपभोक्ताओं की संख्या भी करीब पौने छह लाख पहुंच चुकी है। दो साल पहले लाडनूं उपखंड को भी जोधपुर डिस्कॉम से अलग कर नागौर में शामिल कर लिया गया था। 17 हजार 718 वर्ग किलोमीटर में फैले नागौर जिले में 12 उपखंड एवं 14 पंचायत समितियां हैं, लेकिन डिस्कॉम के ढांचे में वर्तमान में मात्र पांच डिविजन (एक्सईएन कार्यालय) एवं 20 सब डिविजन (एईएन कार्यालय) ही हैं, जबकि उपभोक्ताओं की संख्या आज से दो साल पहले 5 लाख 69 हजार थी, जो अब 5.80 लाख पार हो चुकी है। ऐसे में अधिकारियों पर काम का बोझ अधिक होने के कारण न तो उपभोक्ताओं को बेहतर सेवा मिल पा रही है और न ही नए आवेदकों को समय पर बिजली कनेक्शन दिए जा रहे हैं। साथ ही जिले में बिजली चोरी व छीजत पर भी अंकुश नहीं लग पा रहा है।

फैक्ट फाइल
नागौर वृत्त

  • अधिशासी अभियंता (एक्सईएन) कार्यालय - 5
    नए एक्सईएन कार्यालय स्वीकृत - 2
  • सहायक अभियंता (एईएन) कार्यालय - 20
    नए एईएन कार्यालय स्वीकृत - 6
  • कुल उपभोक्ता - 5.80 लाख (लगभग)

यहां खुलेंगे एईएन कार्यालय
जिले के छोटी खाटू, निम्बी जोधा, कुचामन ग्रामीण, डेह, गच्छीपुरा, भैरूंदा, गोटन व सांजू में नए एईएन कार्यालय स्वीकृत किए गए हैं।

दो साल पहले भेजा था प्रस्ताव
गौरतलब है कि जिले में डिविजन व सब डिविजन कार्यालय खोलने के लिए डिस्कॉम अधिकारियों ने करीब दो साल पहले प्रस्ताव बनाकर मुख्यालय को भेजा था। हालांकि निगम अधिकारियों ने नागौर ग्रामीण, डेगाना, डीडवाना ग्रामीण एवं परबतसर में एक्सईएन (डिविजन) कार्यालय खोलने का प्रस्ताव भेजा था, जबकि सरकार ने डेगाना व लाडनूं में एक्सईएन कार्यालय की स्वीकृति दी है। इसी प्रकार जिले में 20 एईएन कार्यालय से बढ़ा 34 बनाने के लिए प्रस्ताव भेजा था, जिसकी तुलना में छह नए कार्यालय खोलने की स्वीकृति दी है।

जल्द खुलेंगे नए कार्यालय
सरकार ने नागौर वृत्त में छह नए सहायक अभियंता कार्यालय एवं दो अधिशासी अभियंता कार्यालय खोलने की स्वीकृति दी है। उम्मीद है जल्द ही अधिकारियों की नियुक्ति कर काम शुरू करेंगे।
- जस्साराम छाबा, अधीक्षण अभियंता, डिस्कॉम, नागौर

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned