मृत मिले 6 मोर, वन्य जीव प्रेमियों जताया रोष

शनिवार को रेंजर कार्यांलय में होगा पोस्टमार्टंम, तब पता चलेगा मौत का कारण

By: Rudresh Sharma

Published: 18 Sep 2021, 05:42 PM IST

रेण. कस्बे के लाखासागर तालाब के पास स्थित मुक्तिधाम एवं गोशाला के समीप झाडिय़ों में शुक्रवार शाम साढ़े 6 बजे छह राष्ट्रीय पक्षी मोर मृत अवस्था में मिले। झाडिय़ों के पास मोरों के मृत पड़े होने की सूचना पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचे और वन विभाग को मामले की सूचना दी। जिस पर कैटल गार्ड भंवरलाल छरंग मौके पर पहुंचे और मृत मोरों को पोस्टमार्टम के लिए रेंजर कार्यालय मेड़ता सिटी पहुंचाया। जानकारी अनुसार रेण गांव निवासी राकेश गरवा शाम को गोशाला के पास से गुजर रहा था। इस दौरान उसने झाडिय़ों के पास अलग-अलग जगह 6 राष्ट्रीय पक्षी मोर मृत पड़े हुए देखे। यह सूचना राकेश ने ग्रामीणों को दी। जिस पर वन्य जीव प्रेमी शंकरलाल भादू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों ने पूरे मामले की जानकारी वन विभाग कार्यालय मेड़ता और स्थानीय कैटल गार्ड को दी। कुछ ही देर में वनपाल चेनाराम खोजा, कैटल गार्ड भंवरलाल छरंग मौके पर पहुंचे और उन्होंने मृत अवस्था में पड़े मोरों को वन रेंजर कार्यालय मेड़ता सिटी पहुंचाया। जहां शनिवार सुबह मृत मोरों के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पता चल पाएगा कि इन मोरों की मृत्यु कैसे हुई है। वहीं दूसरी ओर एक साथ 6 राष्ट्रीय पक्षी मोरों के मरने की सूचना मिलने पर पंचायत समिति सदस्य गोविंद विश्नोई, जगदीश विश्नोई, ऋषि लोमरोड़, रवि विश्नोई, मनीष गोटिया, चांदराम मेघवाल, नवरतन मेघवाल, पुनाराम ढाका, चेनाराम मेघवाल, घनश्याम मेघवाल सहित वन्य जीव प्रेमियों ने रोष भी जताया है। ग्रामीणों को राष्ट्रीय पक्षी मोर को जहरीला दाना खिलाकर मारने का अंदेशा है।

Show More
Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned