एबीवीपी का पैनल व एनएसयूआई का एक प्रत्याशी घोषित

एबीवीपी का पैनल व एनएसयूआई का एक प्रत्याशी घोषित
Student election

Kamal Singh Rajpoot | Updated: 11 Aug 2015, 11:55:00 PM (IST) Nagaur, Rajasthan, India

मंगलवार को एबीवीपी ने मिर्घा कॉलेज छात्रसंग अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव एवं संयुक्त सचिव पद के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिए। एनएसयूआई ने भी अध्यक्ष पद के लिए अपना प्रत्याशी घोषित

नागौर। जिले में स्थानीय निकाय चुनाव के बाद होने वाले छात्रसंघ चुनाव को लेकर एबीवीपी व एनएसयूआई ने तैयारियां तेज कर दी हैं। मंगलवार को एबीवीपी ने मिर्घा कॉलेज छात्रसंग अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महासचिव एवं संयुक्त सचिव पद के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिए। एबीवीपी की ओर से प्रत्याशियों की घोषणा करने के बाद देर शाम एनएसयूआई ने भी अध्यक्ष पद के लिए अपना प्रत्याशी घोषित किया।

पूर्व घोषित प्रत्याशियों पर लगाई मुहर
तीन दिन पहले एबीवीपी की स्थानीय कार्यकारिणी द्वारा अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद के उम्मीदवार घोषित करने पर प्रदेश सह मंत्री गिरीराज पारीक ने आपत्ति जताते हुए उन्हें अनाधिकृत बताया था। मंगलवार को पारीक खुद नागौर आए। उन्होंने स्थानीय पदाधिकारियों से चर्चा करने के बाद एकजुट होकर चुनाव लड़ने की बात कही तथा पूर्व में घोषित अध्यक्ष पद के उम्मीदवार श्यामलाल मेघवाल व उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी पीयूष लोमरोड़ को यथावत रखते हुए महासचिव पद के लिए हितेश माहेश्वरी व संयुक्त सचिव पद के लिए शाहरूख भट्टी को प्रत्याशी घोषित किया।

इस मौके पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रदेश सह मंत्री पारीक ने बताया कि एबीवीपी हर बार की तरह इस बार भी छात्र हित के मुद्दों पर चुनाव लड़ेगी। महिला कॉलेज में प्रत्याशियों की घोषणा पर पारीक ने कहा कि उन्होंने इसके लिए छात्राओं से मुलाकात कर आवेदन मांगे हैं, आगामी दो-तीन दिन में प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी। इस दौरान एबीवीपी के जिला संयोजक मनीष काला, नगर मंत्री रणजीत देवड़ा, कैलाश काकड़ सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित थे।

विकास के मुद्दों पर लड़ेंगे चुनाव
एबीवीपी मिर्घा कॉलेज में एनसीसी की सीटें बढ़वाने, महिला कॉलेज में वाणिज्य व विज्ञान संकाय शुरू करवाने, विधि महाविद्यालय शुरू करवाने, पेयजल व्यवस्था सुधरवाने सहित विकास के मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ेगी। - मनीष काला, जिला संयोजक, एबीवीपी

दिन में सौंपा ज्ञापन, रात में अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित
छात्रसंघ चुनाव को लेकर एनएसयूआई कार्यकर्ता मंगलवार को काफी सक्रिय नजर आए। दोपहर में जिलाध्यक्ष महेन्द्र डूकिया व पूर्व जिलाध्यक्ष हनुमान बांगड़ा के नेतृत्व में छात्रों ने कलक्ट्रेट तक रैली निकालकर कॉलेज की विभिन्न समस्याओं के संबंध में एडीएम कालूराम को ज्ञापन सौंपा।

ज्ञापन में छात्रों ने विधि कॉलेज शुरू कराने तथा मिर्घा कॉलेज में प्रोफेशनल कोर्स शुरू कराने की मांग रखी। देर शाम जिलाध्यक्ष डूकिया ने एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष राकेश मीणा, प्रभारी दीपक धानका एवं पूर्व जिलाध्यक्ष बांगड़ा से चर्चा करने के बाद महेन्द्र काला को अध्यक्ष पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया। डूकिया ने बताया कि उपाध्यक्ष, महासचिव व संयुक्त सचिव पद के उम्मीदवार आगामी एक-दो दिन में घोषित किए जाएंगे।

जारी करेंगे घोषणा पत्र
इससे पहले कांग्रेस कार्यालय में आयोजित बैठक में कॉलेज विद्यार्थियों से चर्चा की गई। बैठक में जिले की कॉलेजों में विकास के मुद्दों को लेकर छात्रसंघ चुनाव लड़ने का निर्णय लिया गया। जिलाध्यक्ष डूकिया ने बताया कि इस बार वे अपना घोषणा पत्र जारी करेंगे। बैठक में कांग्रेस नेता कृपाराम सोलंकी, छात्र नेता रोहित घासल, आसीफ खान, ऋषभ ललवाणी, पीयूष ललवाणी, चंद्रप्रकाश मिर्घा, कैलाश फरड़ौदा सहित कई छात्र उपस्थित थे।
Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned