एसीबी टीम को देखकर भागने लगा घूसखोर कनिष्‍ठ सहायक

के द्वारा एसीबी में मामले को लेकर 18 दिसम्बर शुक्रवार को शिकायत दर्ज करवाई गई थी। शिकायत में नागरमल ने बताया कि आरोपी के द्वारा 20 हजार रुपए की राशि रिश्वत के रूप में मांगी गई है

By: Rudresh Sharma

Published: 18 Dec 2020, 11:02 PM IST

डीडवाना. निकटवर्ती ग्राम कलवानी ग्राम पंचायत के कनिष्ठ सहायक को एसीबी नागौर की टीम के द्वारा 10 हजार रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

भ्र्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो नागौर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रमेश मौर्य ने बताया कि ग्राम मड़ाम निवासी नागरमल के द्वारा एसीबी में मामले को लेकर 18 दिसम्बर शुक्रवार को शिकायत दर्ज करवाई गई थी। शिकायत में नागरमल ने बताया कि आरोपी के द्वारा 20 हजार रुपए की राशि रिश्वत के रूप में मांगी गई है। जिसके बाद शहर के जन स्वास्थ्य अभियान्त्रिकी विभाग के अधिशासी अभियंता के सामने मुख्य सड़क से आरोपी को दस हजार रुपए की रिश्वत राशि के साथ गिरफ्तार कर लिया गया।

जानकारी के अनुसार ग्राम मड़ाम में नरेगा के अन्तर्गत वन विभाग की खाई खुदाई कार्य के पूर्व के दो पखवाड़े का मस्टरोल जारी करने के बदले कनिष्ठ सहायक विकास कुमार जांगिड़ ने रिश्वत की मांग की थी। एएसपी रमेश मौर्य ने बताया कि आरोपी परिवादी से रिश्वत की राशि वसूलने के लिए अलग-अलग स्थानों पर बुलाता रहा। दो-तीन अलग-अलग स्थानों पर बुलाने के बाद आरोपी ने 10 हजार रुपए सीधे हाथ में लेने के स्थान पर रुमाल में रखवाएं व अपनी जींस पेंट की जेब में रख लिए।

ज्योही एसीबी की टीम ने उसे पकडऩे का प्रयास किया आरोपी मोटरसाईकिल लेकर भागने लगा। लेकिन एसीबी की टीम ने कुछ मीटर की दूरी पर ही उसे दबोच लिया।

Rudresh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned