विवाहिता से सामूहिक बलात्कार के बाद लगाई फांसी, मरा समझकर छोड़ भागे आरोपी

गच्छीपुरा (नागौर). गच्छीपुरा थाना क्षेत्र के गांव गिंगालिया में विवाहिता के साथ सामुहिक बलात्कार के बाद फांसी लगाने का मामला सामने आया है।

By: Ravindra Mishra

Published: 04 Apr 2020, 11:09 PM IST

गच्छीपुरा (नागौर). गच्छीपुरा थाना क्षेत्र के गांव गिंगालिया में विवाहिता के साथ सामुहिक बलात्कार के बाद फांसी लगाने का मामला सामने आया है।
पीडि़ता के गले में गहरी चोट के निशान है। पीडि़ता ने परिजनों के साथ शनिवार को थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई।

पुलिस के अनुसार विवाहिता निवासी बडू हाल गिगालिया ने रिपोर्ट पेश कर पुलिस को बताया कि चार महीने पहले उसका विवाह हुआ था। विवाह के डेढ़ महीने बाद वह पीहर लौटी। कुछ दिन रुकने के बाद उसका पति उसे 28 फरवरी 2020 को जोधपुर ले गया। जोधपुर में पति शराब पीकर उसके साथ मारपीट करने लगा। कुछ दिन पहले उसका पति किसी काम से बाहर गया हुआ था। उस दौरान उसके ननदोई ने उसका मुंह कपड़े से बांधकर उसके साथ बलात्कार किया। गत 21 मार्च को उसके पति ने कोरोनावायरस के डर से उसे गांव में छोडऩे आया। पति के साथ वह मेड़ता से पैदल गांव गिंगालिया के लिए रवाना हुई। उस दारौन पति का परिचित गच्छीपुरा निवासी जीतू भी वहां आ गया। रास्ते में अंधेरा होने पर पति और दो अन्य व्यक्तियों ने शराब पीकर उसके साथ में बारी-बारी बलात्कार किया। पीडि़ता नेे बताया कि गांव आते समय उसके गड्डी निवासी दूसरे नणदोई ने माणवा गांव की नाड़ी में पति के साथ मिलकर रस्सी से उसका गला दबाया। इससे वह बेहोश हो गई। उसे मरा हुआ समझ कर सब वहां से भाग गए। सूचना मिलने पर परिजनों ने उसे संभाला और उसका उपचार करवाया। स्वस्थ होने पर पीडि़ता ने पुलिस थाने पहुंचकर रिपोर्ट दी। शनिवार देर रात पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच डिप्टी डेगाना नविता खोखर को सौंपी है।

Ravindra Mishra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned