कार्रवाई या खानापूर्ति, रात में निकलते रहे वाहन

Nagaur. खनिज विभाग की ओर से दिन में कार्रवाई के नाम पर कुछ डंपर पकड़े गए, और रात में बजरी लदे ओवरलोडेड वाहन बेखोंफ दौड़ते रहे सडक़ों पर
-नागौर व डीडवाना परिवहन एरिया में पूरी रात सडक़ों पर लगी रही बजरी भरे वाहनों की लाइन

By: Sharad Shukla

Published: 21 Aug 2021, 09:34 PM IST

नागौर. नदी किनारे बजरी खनन एवं इसक अवैध रूप से निर्गमन पर उच्च स्तर पर अधिकारियों के दावों बीच जिले में इस पर अब तक रोक लगाए जाने के प्रयास नाकाम रहे। खनिज विभाग की ओर से गोटन एवं नागौर एमई के क्षेत्र में दिन में तो कार्रवाइयां हुई। कुछ गाडिय़ां भी पकड़ी गई, लेकिन रात्रि के हालात विकट ही नजर आए। बजरी एवं अन्य खनिज पदार्थों से लदे वाहन निकलते रहे, और इनको रोकने या इनकी जांच करने वाला कोई नजर नहीं आया। विशेषकर रियाबड़ी क्षेत्र में स्थिति बेहद अव्यवस्थित नजर आई। यह स्थिति तब है जबकि सुप्रीम कोर्ट की ओर से नामित कमेटी के आए सदस्यों में नदी किनारे बजरी खनन पर रोक लगाने के साथ ही नदी किनारों के खातेदारों की लीज समाप्त करने की नसीहत भी दी थी।
खनिज विभाग की निष्क्रियता से जिले में हो रहे अवैध रूप से बजरी खनन एवं इसके अवैध रूप से परिवहन करने के मामले बढऩे लगे हैं। रियाबड़ी क्षेत्र में गोटन एमई जयप्रकाश गोदारा की ओर से मेड़ता व रियाबड़ी क्षेत्र में बजरी का अवैध रूप से परिवहन करते डंपर पकड़े गए थे। इसी तरह नागौर एमई सहायक खनि अभियंता धीरज पंवार ने नागौर-बीकानेर रोड पर दो डम्पर खनिज मेसनरी स्टोन के पकड़े थे। इसी एमई के क्षेत्र में आने वाले नागौर- लाडनू रोड पर भी खनिज विभाग के दल की ओर से दो ट्रेक्टर व एक डम्पर खनिज मेसनरी स्टोन पकड़े गए थे। इसके बाद रात्रि में इनकी रोकथाम की कोई व्यवस्था नहीं होने से स्थिति फिर से वही हो गई। पूरी रात खनिज पदार्थों से भरे डंपर गोटन एवं नागौर एमई के क्षेत्रों में अवैध रूप से निकलते रहे। स्थिति यह रही कि पूरी निगरानी के अभावों में दर्जनों खनिज पदार्थों से भरी गाडिय़ां निकली, और अपने गंतव्यों को जाती नजर आई। विशेषकर रियाबड़ी क्षेत्र की स्थिति ज्यादा विकट रही। यहां पर लगे नाकों के सामने ही सन्नाटे व जिम्मेदारों की निगरानी के अभाव में महज 20 मिनट के अंदर करीब डेढ़ दर्जन से अधिक खनिज पदार्थों से लदे वाहन निकल गए। गौरतलब है कि गुरुवार को ही खनिज विभाग के उच्चाधिकारियों की ओर से खनिज पदार्थों के अवैध रूप से परिवहन आदि पर रोक लगाने के संदर्भ में दिशा-निर्देश जारी हुए थे। इसके बाद भी जिले के अधिकारी खनिज पदार्थों के अवैध निर्गमन पर रोक लगाने के प्रति बेपरवाह नजर आए।
इनका कहना है...
बजरी के अवैध खनन एवं निर्गमन पर रोक लगाने के लिए विभाग की ओर से कार्रवाइयां की जा रही है। अवैध रूप से निर्गमन करते गाडिय़ां भी पकड़ी गई। जल्द ही इस पर रोक लगाने के लिए और कदम उठाए जाएंगे।
जयप्रकाश गोदारा
अवैध रूप से निर्गमन करने वालों पर विभाग सख्त कार्रवाई कर रहा है। कार्रवाई में कुछ डंपर व ट्रेक्टर जब्त भी किए गए हैं।
धीरज पंवार एमई खनिज विभाग नागौर

Sharad Shukla Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned