scriptAjay Singh Chautala said in Kharnal- will not let the temple work stop | खरनाल में बोले अजयसिंह चौटाला - 50 करोड़ दूंगा तो ईडी पीछे पड़ जाएगी, पर मंदिर का काम बंद नहीं होने दूंगा | Patrika News

खरनाल में बोले अजयसिंह चौटाला - 50 करोड़ दूंगा तो ईडी पीछे पड़ जाएगी, पर मंदिर का काम बंद नहीं होने दूंगा

खरनाल में वीर तेजाजी महाराज के मंदिर नवनिर्माण का शिलान्यास एवं धर्मसभा का आयोजन
- प्रदेश के विभिन्न जिलों के साथ हरियाणा से भी बड़ी संख्या में आए तेजा भक्त

नागौर

Published: June 11, 2022 12:05:41 pm

नागौर. सत्यवादी वीर तेजाजी महाराज की जन्म स्थली खरनाल में अक्षरधाम व स्वर्ण मंदिर की तर्ज पर भव्य मंदिर बनाने को लेकर चल रही मुहिम के तहत शुक्रवार को निर्जला एकादशी के शुभ मुहूर्त में चांदी की ईंट रखकर शिलान्यास किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हरियाणा की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के अध्यक्ष अजयसिंह चौटाला सहित पूर्व मंत्री राजेन्द्र चौधरी, पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़, आईएएस अधिकारी आरुषि मलिक सहित मंदिर निर्माण समिति के पदाधिकारियों ने विधि-विधान से पूजा अर्चना के बाद नींव रखी।
Ajay Singh Chautala said in Kharnal- will not let the temple work stop
Ajay Singh Chautala said in Kharnal- will not let the temple work stop
मंदिर नवनिर्माण का शिलान्यास करने के बाद पैनोरमा स्थल पर आयोजित धर्मसभा को संबोधित करते हुए डॉ. अजय सिंह चौटाला ने कहा कि मुझे दो महीने पहले यहां आने का अवसर मिला था। मैं नहीं आया, मुझे तेजाजी ने बुलाया था। जब मैं यहां आया और देखा तो महसूस हुआ कि हमारे से छोटे-छोटे समाज के लोग उनके समाज के महापुरुषों के जन्म स्थानों को भव्य स्वरूप देकर उन्हें पूजने का काम करते हैं। हमारा समाज उनसे कहीं बड़ा है, इसलिए हम सब को भी मिलकर प्रयास करना चाहिए। चौटाला ने कहा कि मैंने दो महीने पहले जो बाद कही, उसे मंदिर समिति ने महसूस करते हुए काम को आगे बढ़ाया।
राजनीति मंशा और सोच नहीं
जेजेपी के अध्यक्ष चौटाला ने कहा कि मेरी मंशा और सोच राजनीतिक नहीं है, राजनीति की शुरुआत तो मैंने इसी राजस्थान की पावन धरा से की थी, एक बार नहीं दो बार विधायक बना और चाहता तो यहीं राजनीति करता, लेकिन हरियाणा के लोगों को मेरी आवश्यकता थी, इसलिए मैंने वहां राजनीति शुरू की। उन्होंने कहा कि मैं तो यह चाहता हूं कि तेजाजी की इस जन्मस्थली को भव्य स्वरूप मिले, यह ऐसा पर्यटन स्थल बने कि पूरे विश्व के लोग यहां आकर देखें कि जाट समाज के इस योद्धा ने अपने लिए नहीं, बल्कि दूसरों के लिए अपना जीवन न्यौछावर कर दिया था। लोग इसको जानें और यहां आकर तेजाजी को नमन करें, इसी सोच से काम शुरू किया है।
जहां नींव रखी है, वहां भव्य मंदिर बनेगा
मंदिर निर्माण के कार्य को लेकर चौटाला ने कहा कि इस काम को कोई अकेला अजयसिंह चौटाला नहीं कर सकता। मैं तो इसमें योगदान दे सकता हूं। मैंने तो दो महीने पहले भी ब्लैंक दिया था और कहा था जितनी चाहे राशि भर लो, लेकिन मंदिर बनना चाहिए। लेकिन पीछे से मैंने कुछ सुना, किसी ने मुझे बताया कि पहले 15 करोड़ रुपए जमा कराओ, 50 करोड़ रुपए जमा कराओ। आजकल आप लोग ईडी के बारे में अखबार में पढ़ते हो, वो दूसरे ही दिन पीछे पड़ जाती है। मेरी इतनी हैसियत नहीं है कि मैं 15 करोड़ या 50 करोड़ रुपए डिपोजिट कराऊं। लेकिन इतनी हैसियत जरूर रखता हूं कि जो नींव मैंने रखी है, वहां भव्य मंदिर बनेगा और एक दिन भी काम नहीं रुकेगा। हर महीने मैं यहां आऊंगा काम का निरीक्षण करने। बाकि सबके सहयोग की आवश्यकता है। चौटाला ने राम सेतु निर्माण में गिलहरी के योगदान का उदाहरण देते हुए कहा कि जिसकी जो हैसियत है, उतना योगदान जरूर दें।
अपने यहां यहां खींचतान ज्यादा
धर्मसभा को पूर्व चिकित्सा मंत्री राजेन्द्र चौधरी ने संबोधित करते हुए कहा कि जाटों के इतिहास के साथ छेड़छाड़ हो रही है, फिल्मों में गलत इतिहास बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अजयसिंह चौटाला के सहयोग पर कोई विवाद नहीं होना चाहिए। उन्होंने पिछले 22-23 वर्षों में किए गए कार्यों की जानकारी भी दी। पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़ ने कहा कि अपने यहां तो खींचातान ज्यादा है, इसलिए तेजाजी ने चौटाला को जगाया और यहां भेजा, इसलिए मंदिर का काम शुरू हुआ है। अब यहां जोधाणा व बीकाणा के बीच तेजाणा का निर्माण होगा। कार्यक्रम को पूर्व विधायक रामचंद्र जारोड़ा, डॉ. रजनीश गावडिय़ा, बाल आयोग अध्यक्ष संगीता बेनीवाल, मरू प्रदेश बनाने का अभियान चला रहे जयवीर गोदारा, रालोपा नेता रेवंतराम डांगा, जोधपुर के चेलाराम सारण आदि ने संबोधित करते एकजुटता से 36 कौम का सहयोग लेकर मंदिर बनाने की बात कही। एनएसयूआई प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक चौधरी ने तेजाजी के आदर्शों को जन जन तक पहुंचाने की बात कही।
नींव में रखी सवा 18 किलो चांदी
तेजाजी के मंदिर का नवनिर्माण करने के लिए शुक्रवार को रखी गई नींव में सवा 18 किलो चांदी की ईंटें रखी गई। इसमें 17 किलो की ईंट अजयसिंह चौटाला की ओर से तथा सवा किलो चांदी की ईंट एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक चौधरी की ओर से रखी गई। धर्म सभा के दौरान नोखा के शेराराम व कन्हैयालाल सियाग ने दस लाख रुपए का सहयोग देने की घोषणा की। धर्मसभा पर हेलीकाप्टर से तीन बार पुष्प वर्षा की गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: फडणवीस को डिप्टी सीएम बनने वाला पहला CM कहने पर शरद पवार की पूर्व सांसद ने ली चुटकी, कहा- अजित पवार तो कभी...Udaipur Killing: आरोपियों के मोबाइल व सोशल मीडिया का डाटा एटीएस के लिए महत्वपूर्ण, कई संदिग्धों पर यूपी एटीएस का पहराJDU नेता उपेंद्र कुशवाहा ने क्यों कहा, 'बिहार में NDA इज नीतीश कुमार एंड नीतीश कुमार इज NDA'?कन्हैया की हत्या को माना षड्यंत्र, अब 120 बी भी लागूकानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या मामले पर नवनीत राणा ने गृह मंत्री अमित शाह को लिखी चिट्ठी, की ये बड़ी मांगmp nikay chunav 2022: दिग्विजय सिंह के गैरमौजूदगी की सियासी गलियारे में जबरदस्त चर्चाबहुचर्चित अवधेश राय हत्याकांड में बढ़ी माफिया मुख्तार की मुश्किलें, जाने क्या है वजह...
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.