वीडियो : बिरलोका में दलित दूल्हे को घोड़ी से उतारने का आरोप, सांसद ने कहा - सख्त कार्रवाई हो

पीडि़त पक्ष पहुंचा नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल के पास, सांसद ने सर्किट हाउस में पुलिस अधिकारियों को बुलाकर दिए कार्रवाई के निर्देश
- सांसद की उपस्थिति में पीडि़त के भाई ने एएसपी को दी रिपोर्ट
- आरएलपी विधायकों ने विधानभा में उठाया मामला

By: shyam choudhary

Published: 26 Feb 2021, 09:55 AM IST

नागौर. जिले के खींवसर थाना क्षेत्र के बिरलोका गांव में एक दलित दूल्हे को घोड़ी से उतारकर मारपीट करने व बारात पर पथराव करने का मामला सामने आया है। पीडि़त पक्ष के लोगों ने गुरुवार को नागौर पहुंचकर सांसद हनुमान बेनीवाल से मुलाकात कर कार्रवाई की मांग की, जिस पर सांसद ने अजमेर रेंज आईजी व डीजीपी से बात कर मामले की गंभीरता से अवगत कराया। इसके बाद सांसद पीडि़त परिवार व मेघवाल समाज के लोगों को लेकर सर्किट हाउस पहुंचे तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश मीना व डीएसपी विनोद कुमार सीपा को बुलाया। सर्किट हाउस में सांसद बेनीवाल की उपस्थिति में पीडि़त पक्ष ने दोनों पुलिस अधिकारियों को अपनी पीड़ा बताई तथा कार्रवाई की मांग की। सांसद ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके बाद दूल्हे सुनील के भाई हीराराम पुत्र तेजाराम मेघवाल ने सांसद की उपस्थिति में एएसपी मीना को रिपोर्ट दी। गुरुवार देर रात पुलिस ने खींवसर थाने में आधा दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर दो जनों को गिरफ्तार कर लिया, जबकि शेष की तलाश जारी है।

दलितों पर बढ़ रहे अपराध, पुलिस खो रही विश्वास
सांसद हनुमान बेनीवाल ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि आजादी के 73 साल बाद भी दलितों को घोड़ी से उतारना और मारपीट करने की जैसी घटनाएं व बर्ताव दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार को ऐसे मामले में सख्त कार्रवाई करने की जरूरत है, ताकि ऐसी घटनाओं की पुनरावृति नहीं हो। उन्होंने कहा कि डेढ़ साल पहले भी करणू में दलित अत्याचार का गंभीर मामला सामने आया था। इस प्रकार आए दिन जिले एवं प्रदेश में दलितों पर अत्याचार हो रहे हैं, जो गंभीर विषय है। उन्होंने कहा कि पुलिस का इकबाल समाप्त हो रहा है। उन्होंने एएसपी मीना की उपस्थिति में कहा कि पुलिस को दो दिन का समय दिया है, यदि आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए और उचित कार्रवाई नहीं हुई तो वे सडक़ पर बैठने से भी पीछे नहीं हटेंगे। उन्होंने कहा कि पुलिस को इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करना चाहिए।

जल्द करेंगे कार्रवाई
इस मौके पर उपस्थित एएसपी राजेश मीना ने पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि परिवादी की रिपोर्ट के अनुसार बुधवार रात को मेघवाल समाज के दूल्हे की बंदोली निकालने के दौरान समाज कंटकों द्वारा दूल्हे व डीजे पर पत्थरबाजी व मारपीट की गई है। इस मामले में अविलम्ब कार्रवाई कर आरोपियों को दस्तयाब कर ठोस कानूनी कार्रवाई की जाएगी। एएसपी ने बताया कि दूल्हे को घोड़ी से उतारने की बात का वेरिफिकेशन करवाया जा रहा है। मेघवाल समाज को पुलिस आश्वस्त करती है कि इस प्रकार की घटना में पुलिस आरोपियों के साथ सख्ती से पेश आएगी।

विधानसभा में उठाया दलित दूल्हे को घोड़ी से उतारने का मामला
बिरलोका में दलित दूल्हे को घोड़ी से उतारने के प्रकरण को विधानसभा में पॉइंट ऑफ इन्फॉर्मेशन से आरएलपी के प्रदेशाध्यक्ष व भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग व खींवसर विधायक नारायण बेनीवाल ने उठाते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी कर कार्रवाई करने की मांग की। विधायक बेनीवाल ने करणू का प्रकरण की भी याद दिलाई।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned