सजे-धजे सांवरे को निहारा, कीर्तन में डूबे रहे श्रद्धालु

जिलेभर में श्रद्धा से मनाई देवउठनी एकादशी

By: Jitesh kumar Rawal

Updated: 25 Nov 2020, 10:52 PM IST

नागौर. देवउठनी एकादशी जिलेभर में श्रद्धा से मनाई गई। श्रीहरि के योग निद्रा से उठने का दिन होने से श्रद्धालुओं में उल्लास बना रहा। देवालयों में कई धार्मिक कार्यक्रम हुए। महिलाओं ने भजन-कीर्तन किए। श्रीकृष्ण मंदिरों में दीप मालिकाएं व रंगोली सजाई गई। किशन-कन्हैया को नमन कर प्रसाद चढ़ाया गया। सुबह से ही कीर्तन चलते रहे। श्रद्धालुओं ने व्रतोपवास किए।
हालांकि इस बार कोरोना संक्रमण के कारण लोगों में कुछ मायूसी सी रही, लेकिन पर्व मनाने में कोई कमी नहीं रही। कम संख्या में ही सही पर श्रद्धालु मंदिर पहुंचे और सांवरे को निहारने का लाभ लिया। मंदिरों में भगवान का शृंगार किया गया। विशेष परिधान पहनाए गए। श्रद्धालुओं ने विशेष पूजा-अर्चना कर प्रसाद वितरित किया।

सजाई दीपमालिकाएं
एकादशी के उपलक्ष्य में घरों व प्रतिष्ठानों के बाहर दीप सजाए गए। शाम ढलते ही दीप सजाने का कार्य शुरू हो गया। घरों के बाहर झरोखों में टिमटिमाते दीपकों ने लोगों को काफी आकर्षित किया। उधर, तुलसी विवाह के कार्यक्रम भी हुए।

घरों में हुई तुलसी पूजा
एकादशी पर महिलाओं ने घरों में तुलसी व शालिग्राम का विवाह कर परिक्रमा की। घर के आंगन में लगे तुलसी के पौधे पर सुहाग का सामान अर्पित किया। साथ ही परिवार में कुशलता को लेकर कामना की। महिलाओं ने तुलसी माता व विष्णु भगवान से सुख समृद्धि मांगी एवं भजन-कीर्तन किए।

Jitesh kumar Rawal
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned