बड़ी खबर : प्रदेश की 3848 ग्राम पंचायतों के चुनाव की घोषणा, चार चरणों मे होंगे चुनाव

प्रदेश की 3848 ग्राम पंचायतों के पंच व सरपंचों के चुनाव की घोषणा

By: shyam choudhary

Updated: 07 Sep 2020, 04:33 PM IST

नागौर. नागौर जिले की 218 सहित प्रदेश की 3848 ग्राम पंचायतों में पंच व सरपंच के साथ उप सरपंच के चुनाव आगामी 28 सितम्बर से होंगे। कोरोना महामारी के चलते प्रदेश की इन ग्राम पंचायतों में समय पर चुनाव नहीं हो पाए थे, जिनके चुनाव कराने के लिए सोमवार को राज्य निर्वाचन आयोग ने कार्यक्रम घोषित कर दिया है।

उच्चतम न्यायालय के आदेशों की पालना में राज्य निर्वाचन आयोग ने 15 अक्टूबर से पहले चुनाव कराने के लिए चार चरणों में मतदान पूरा करने का निर्णय लिया है। कोरोना महामारी को देखते हुए मतदान का समय एक घंटे बढ़ाया गया है। चार चरणों में होने वाले चुनाव का पहला चरण 28 सितम्बर को होगा, वहीं दूसरे चरण का मतदान 3 अक्टूबर को, तीसरे का 6 अक्टूबर को तथा चौथे चरण का 10 अक्टूबर को मतदान होगा। अब 1100 के स्थान पर 900 मतदाताओं पर एक मतदान केन्द्र होगा। सरपंच पद के लिए मतदान ईवीएम से होगा, जबकि पंच पद का चुनाव बैलेट पेपर से होगा। खास बात यह है कि जिला परिषद सदस्यों व पंचायत समिति सदस्यों के चुनाव की घोषणा बाद में होगी।

गौरतलब है कि परिसीमन के बाद जिले में कुल 500 ग्राम पंचायतें हो गई हैं, जिनमें से 282 पंचायतों में चुनाव हो गए, जबकि 218 ग्राम पंचायतों में चुनाव होने शेष हैं। इनमें नागौर, मूण्डवा, मकराना, कुचामन, लाडनूं, जायल, नावां, डीडवाना, मौलासर, खींवसर पंचायत समितियों की ग्राम पंचायतों में चुनाव हो चुके हैं, लेकिन डीडवाना की 35, खींवसर की 3 ग्राम पंचायतों में चुनाव होने शेष हैं। इसी प्रकार मेड़ता, रियां, डेगाना, परबतसर, भैरूंदा की सभी ग्राम पंचायतों में चुनाव होने हैं।

राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार गत दिनों कलक्टर द्वारा ली गई बैठक में मतपेटियोंं तथा मतदान सामग्री के उचित प्रबंधन को लेकर सहायक निदेशक, लोक सेवाएं को प्रभारी तथा जिला रसद अधिकारी को सह प्रभारी बनाते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए थे। मतपत्रों के प्रकाशन को लेकर कोषाधिकारी तथा यातायात व्यवस्था को लेकर मुख्य लेखाधिकारी को निर्देश दिए गए थे।

जिले की 218 ग्राम पंचायतों में चुनाव होने शेष
पंचायतराज संस्थाओं के चुनाव से पहले राज्य सरकार द्वारा कराए गए परिसीमन के बाद नागौर जिले में कुल 500 ग्राम पंचायतें हो गई हैं, जिनमें से 282 पंचायतों में ही चुनाव हो पाए हैं, जबकि 218 ग्राम पंचायतों में अब भी चुनाव होने शेष हैं। इनमें नागौर, मूण्डवा, मकराना, कुचामन, लाडनूं, जायल, नावां, डीडवाना, मौलासर, खींवसर पंचायत समितियों की ग्राम पंचायतों में चुनाव हो चुके हैं, लेकिन डीडवाना की 35, खींवसर की 3 ग्राम पंचायतों में चुनाव होने शेष हैं। इसी प्रकार मेड़ता, रियां, डेगाना, परबतसर, भैरूंदा की सभी ग्राम पंचायतों में चुनाव होने हैं। इन ग्राम पंचायतों में जहां आठ महीने पहले चुनाव होने थे, वहां अब तक चुनाव नहीं होने से विकास कार्य ठप पड़े हैं।

जानिए, कहां कितनी ग्राम पंचायतें नई बनी
पंचायत समिति - ग्राम पंचायतें - नवसृजित
नागौर - 40 - 3
मूण्डवा - 31 - 2
मेड़ता - 41 - 1
रियां - 20 - 0
डेगाना - 35 - 4
परबतसर - 42 - 6
मकराना - 40 - 4
कुचामन - 33 - 2
डीडवाना - 37 - 4
लाडनूं - 34 - 2
जायल - 38 - 0
नावां - 24 - 0
मौलासर - 27 - 1
खींवसर - 35 - 3
भैरूंदा - 23 - 1
कुल - 500 - 33

इन नवसृजित पंचायतों में हो गए चुनाव
नागौर की मुण्डासर, साडोकन व अठियासन, मूण्डवा की भदोरा व बू-नरावता, मकराना की काशीनगर, कुचामन की जसराणा व चांदपुरा, लाडनूं की मालगांव व भिंडासरी, मौलासर की भोपजी का बास तथा खींवसर की खुण्डाला व साटिका खुर्द में पंचायत चुनाव हो चुके हैं। इसलिए यहां ग्राम पंचायत भवन की ज्यादा आवश्यकता है।

इन नवसृजित ग्राम पंचायतों में नहीं हुए चुनाव
खींवसर की लालाप, मेड़ता की आकेली ए, डेगाना की किरड़, खिंवताना, चुवा व सारसण्डा, परबतसर की गुढ़ा, खिदरपुरा, हुलढाणी, रूघनाथपुरा, ललाना कलां व मोड़ी खुर्द, मकराना की मामडोली, देवरी व लोरोली, डीडवाना की रणसीसर जाटान, मण्डाबासनी, निम्बी खुर्द व प्यावा तथा भैरूंदा की गोल में चुनाव होने शेष हैं।


कोरोना गाइडलाइन का करना होगा पालन
एडीएम मनोज कुमार ने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशानुसार आगामी समय में होने वाले पंचायतीराज चुनावों में कोविड-19 महामारी के संक्रमण की रोकथाम व बचाव को लेकर जारी गाइडलाइन का पूर्ण पालन करना होगा। इसके लिए चुनाव कार्य में लगे प्रत्येक अधिकारी व कार्मिक को आरोग्य सेतू एप डाउनलोड करना होगा। फेस मास्क व सेनेटाइजेशन का पूरा पालन करना होगा। इसके लिए ब्लॉक लेवल पर खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी को नोडल स्वास्थ्य अधिकारी नियुक्त किया जाएगा। मतदान केन्द्रों पर हैल्थ टीमों के थर्मल स्केनिंग के जरिए हैल्थ स्क्रीनिंग की पूर्ण व्यवस्था करनी होगी।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned